रेमडेसिवीर इंजेक्शन
रेमडेसिवीर इंजेक्शन

जबलपुर, संदीप कुमार। सिटी अस्पताल संचालक ने नकली रेमडेसिवीर (remdesivir) इंजेक्शन कहां-कहां फेंके है, एसआईटी लगातार इसकी तलाश कर रही है। इंदौर (indore) से गिरफ्तार हुए राकेश शर्मा की निशानदेही पर एसआईटी प्रमुख टीम के साथ तिलवाराघाट पहुंचे जहां उन्होंने उस स्थान का जायजा लिया जहां पर नकली इंजेक्शन (fake injections) को बहाया गया था। साथ ही यह भी जानकारी ली गई कि नकली इंजेक्शनों को किस स्थान पर ठिकाने लगाया गया था।

यह भी पढ़ें… खंडवा पीआरओ मामला: पूर्व अधिकारी का कलेक्टर पर तल्ख ट्वीट

नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन मामले में इंदौर से गिरफ्तार हुए राकेश शर्मा ने एसआईटी के सामने कई खुलासे किए है। इस खुलासे के बाद एसआईटी प्रमुख रोहित कासवानी अपनी टीम के साथ नर्मदा के तिलवारा पुल पहुंचे जहां उन्होंने नकली इंजेक्शन को किस जगह बहाया गया था उस स्थान की छानबीन की। रोहित कासवानी को उम्मीद है कि जिस स्थान पर नकली इंजेक्शन को बहाया गया था वहां से ना सिर्फ नकली इंजेक्शन बरामद होंगे बल्कि कई अहम सुराग भी उनकी जांच के दौरान मिल सकते हैं।

नर्मदा नदी के तिलवारा घाट पुल पर कई नकली इंजेक्शन बहाए गए हैं यह सूचना एसआईटी को राकेश शर्मा ने पूछताछ के दौरान बताई जिसके बाद एसआईटी प्रमुख रोहित कासवानी गोताखोरों से मदद लेकर नर्मदा नदी में बहाए गए नकली इंजेक्शन को तलाशने की जुगत में जुट गए हैं।  माना जा रहा है कि तिलवारा घाट पुल के पास से कई नकली इंजेक्शन मिल सकते हैं।

यह भी पढ़ें… सूरजपुर के बाद अब शाजापुर में सिंघम ADM, दुकानदार को लगाया सरेआम थप्पड़, देखिये वीडियो

बताया जा रहा है कि कि राकेश शर्मा तीन मई को सपन जैन के साथ मोटरसाइकिल से तिलवारा गया था, जहां उसने 35 नकली इंजेक्शन नर्मदा में बहा दिए थे। इसके अलावा कुछ और लोगों को भी उसने इंजेक्शन दिए थे। हिरासत में आए राकेश शर्मा को लेकर एसआइटी तिलवारा पुल पहुंची जहां घटना का रिक्रिएशन कराया। हिरासत में शर्मा ने एसआइटी को बताया कि सिटी हॉस्पिटल को भेजे जाने वाले नकली इंजेक्शन में 35 इंजेक्शन उसने अलग रख लिया था जिसे सपन जैन को देना था। इंजेक्शन देने के लिए वह तीन मई को जबलपुर आया था परंतु बाद में सपन के साथ मोटरसाइकिल से वह तिलवारा गया जहां इंजेक्शन नर्मदा में बहा दिया।