रंग लाई कलेक्टर की पहल, ऐसे तनाव मुक्त रह रहे कोरोना मरीज

जबलपुर, संदीप कुमार।
कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने पदभार संभालने के तुरन्त बाद ज्ञानोदय और सुखसागर कोविड केयर सेंटर तथा
विक्टोरिया अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज के अपने निरीक्षण के दौरान यहाँ कोविड वार्ड में भर्ती कोरोना मरीजों को रचनात्मक गतिविधियों में व्यस्त रखने और उनके मनोरंजन के लिये इंडोर गेम की किट और संगीत की सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिये थे।कोविड केयर सेंटर्स में आइसोलेट किये गये कोरोना संक्रमितों को कैरम,शतरंज एवं लूडो जैसे इंडोर गेम तथा गीत-संगीत के माध्यम से व्यस्त और तनाव मुक्त रखने का कलेक्टर कर्मवीर शर्मा का आइडिया काफी कामयाब साबित होता नजर आ रहा है।इन उपायों से उन कोरोना मरीजों के चेहरे पर भी अब रौनक दिखाई देने लगी है जो घर और परिवार के सदस्यों से दूर रहने के कारण अवसाद में डूबे दिखाई देते थे
ज्ञानोदय हो या सुखसागर कोविड केयर सेंटर अथवा विक्टोरिया अस्पताल का कोविड वॉर्ड इन सभी जगहों पर अब न केवल संगीत की गूंज सुनाई देने लगी है बल्कि यहाँ रह रहे कोरोना मरीज अपने मन पसंद गीतों पर झूमते भी दिखाई देने लगे हैं।

कैरम, लूडो और शतरंज ने तो अनजाने मरोजों को भी करीब ला दिया 
दूर-दूर बने रहने वालों में भी दोस्ती कलेक्टर शर्मा के निर्देश पर रेडक्रॉस सोसायटी की ओर से इन कोविड केयर सेंटर्स के साथ-साथ क्वारन्टीन सेंटर्स को भी कैरम, लूडो और शतरंज की किट उपलब्ध कराई गई।
आज इन सेंटर्स में जहाँ संगीत के स्वर गूँज रहे हैं वहीं यहाँ आइसोलेशन में रखे गये पुरुष और बच्चे इंडोर खेलों से अपना मनोरंजन कर रहे हैं । सबसे बड़ा फायदा जो दिखाई दे रहा है वो कोरोना मरीजों का अकेलापन से बाहर निकलना है । आइसोलेशन में रहने के बावजूद भी उन्हें सुकून और ताजगी का अहसास होने लगा है । मानसिक तौर पर भी वे अपने आपको ज्यादा तरोताजा और फिट महसूस करने लगे हैं

कोविड केयर सेंटर्स के प्रभारी अधिकारी एवं अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित के मुताबिक कलेक्टर कर्मवीर शर्मा के निर्देशानुसार जिला प्रशासन अब इन सेंटर्स तथा मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्डों में समाचार पत्र और पत्रिकाएं भी उपलब्ध कराने जा रहा है।