लॉन्ग प्रूफ रेंज से तोप के तीन खोल चोरी, पुलिस ने शुरू की तहकीकत

जबलपुर, संदीप कुमार। सेना के लिए बनाए जाने वाले हथियारों की कुछ सामग्री लांग प्रूफ रेंज से चोरी हुए थे, इस घटना के बाद सूबेदार ने खमरिया थाने रिपोर्ट दर्ज कराई। इस शिकायत के बाद पुलिस में आसपास के इलाके में चोरों को तलाश करने की कवायद शुरू कर दी जिसमें की पुलिस को अहम कामयाबी मिली है। खमरिया थाना पुलिस ने कुछ कबाड़ियों को गिरफ्तार किया है जिनके पास से सामान भी बरामद हुआ है।

खरगोन में लगाए जाएंगे मेगा ऑक्सीजन प्लांट, उद्योगपति आगे आकर कर रहे राशि दान

ये है घटनाक्रम
दर्शल केंद्रीय सुरक्षा संस्थान के लांग प्रूफ रेंज (LPR) से तोप के तीन खोल चोरी हुए थे। खास बात यह है कि चोरों ने एलपीआर के अंदर ही पहले तो खोल से बारूद हटाया और फिर उसे खाली करने के बाद ले उड़े। चोरी हुए तोप के खोल की कीमत करीब छह लाख रुपये है। सेना के वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर सूबेदार ने चोरी की घटना खमरिया थाने में दर्ज करवाई। लांग प्रूफ रेंज में पदस्थ सूबेदार की शिकायत पर खमरिया थाना पुलिस ने मामला दर्ज किया था।

पुलिस को ग्रामीणों और कबाड़ियों पर शक
एएसपी संजय अग्रवाल के मुताबिक जिस स्थान पर सेना का लांग प्रूफ रेंज है उसके पास गांव बसे हुए हैं। यहाँ रहने वाले ग्रामीण और कुछ कबाड़ी सेना के एलपीआर रेंज में घुसकर चोरी को अंजाम दिया करते हैं। अभी तक दो कबाड़ी पुलिस के हाथ लगे हैं जिनके पास से कुछ बम के खोल बरामद हुए हैं। इनसे पूछताछ जारी है।

इन बमों के कलपुर्जे हुए थे चोरी
खमरिया थाना पुलिस को सेना के सूबेदार ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि 125 एम.एम. टैंकरोधी बमों के खोल अज्ञात चोरों ने चुरा लिए हैं। शिकायत पर पुलिस लगातार चोरों की तलाश में जुटी थी। पुलिस का मानना है कि पूछताछ में इन चोरों से इनकी टीम के कई और सदस्यों के खुलासे हो सकते हैं। बहरहाल सेना के एरिया से चोरी होना सुरक्षा में एक बड़ी सेंध कहा जा सकता है।