अनलॉक में भी बाजार बंद, व्यापारियों का फूटा गुस्सा

जबलपुर में अनलॉक की घोषणा के बाद भी बड़ा फुहारा बाजार को बंद रखा गया। जिसके चलते प्रशासन को व्यापारियों का गुस्से का सामना करना पड़ रहा है।

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर में सीएम के निर्देश पर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा (Jabalpur Collector Karmveer Sharma) ने अनलॉक (Unlock) की घोषणा तो कर दी है, लेकिन शहर के कुछ बाजारों को लॉक रखा गया। जिसको लेकर स्थानीय व्यापारियों में जिला प्रशासन के आदेश का विरोध देखा गया। जहां अनलॉक के पहले दिन ही भीड़ उमड़ पड़ी।

यह भी पढ़ें:-दमोह में व्यापारियों के लिए अलग से शुरू हुआ वैक्सीनेशन सेंटर

जबलपुर कलेक्टर के निर्देश पर शहर के सबसे बड़े बाजार बड़ा फुहारा और आसपास के बाजार को अनलॉक से दूर रखा गया। लिहाजा जिला प्रशासन के आदेश के खिलाफ बड़ी संख्या में व्यापारी बड़ा फुहारा चौक पर एकत्रित हो गए और प्रशासन के आदेश का विरोध करने लगे। व्यापारियों का कहना है कि बीते 50 दिनों से राज्य सरकार और जिला प्रशासन के आदेश का पालन करते हुए बाजार को बंद रखा गया। आज जबलपुर में भोपाल से भी कम पॉजिटिविटी रेट है, इसके बाद भी इस बाजार को बंद रखना कही से भी सही नहीं है।

जबलपुर का सबसे बड़ा बाजार

पहले 2020 में लॉकडाउन और उसके बाद फिर 2021 में डेढ़ माह के बन्द ने पूरे व्यापार को चौपट कर दिया है। जबलपुर शहर का सबसे बड़ा कपड़ा बाजार बड़ा फुहारा में स्थित है। इसके अलावा और भी कई बाजार यहां पर लगते हैं। लेकिन जिला प्रशासन ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस जगह पर लॉकडाउन को यथावत रखा है। जिसके चलते व्यापारी नाराज हो गए इधर प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचकर लगातार व्यापारियों को मनाने में जुटे हुए हैं।