जब कलेक्टर ने खुद का ही वेतन रोकने का दिया आदेश

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर कलेक्टर ने सीएम हेल्पलाइन में आने वाली समस्याओं के निराकरण न होंने से नाराजगी जताते हुए ऐसा आदेश दे दिया, जो चर्चा का विषय बन गया, दरअसल जबलपुर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने सोमवार को बैठक में जब समीक्षा की तो सामने आया कि सी एम हेल्पलाइन के निराकरण में जबलपुर जिला प्रदेश के अन्य जिलों की तुलना में बेहद पीछे है। इससे जबलपुर जिले के कलेक्टर कर्मवीर शर्मा नाराज हो गए हैं, और उन्होंने नाराजगी जताते हुए संबंधित अधिकारियों का एक माह का वेतन रोकने का आदेश तो दिया साथ ही अपना वेतन रोकने का भी आदेश दे दिया, उन्होंने सोमवार को जिला पंचायत कार्यालय में सीएम हेल्पलाइन के तहत आने वाली लोगों की समस्याओं की समीक्षा की।

यह भी पढ़े.. हिस्ट्रीशीटर की गोली मारकर हत्या, 24 से अधिक संगीन अपराध थे दर्ज

इस बैठक में जिले के सभी अधिकारी मौजूद थे। बैठक में जिले में सीएम हेल्पलाइन के तहत आने वाली समस्याओं का निराकरण समय पर नहीं करने पर उन्होंने नाराजगी जताई। साथ ही खुद का एक माह का वेतना रोकने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही उन्होंने बैठक में मौजूद अधिकारियों का भी एक माह का वेतन रोकने का निर्णय लिया है। अब जब तक समस्याओं का समाधान नहीं हो जाता है तब तक कलेक्टर समेत सभी अधिकारियों का वेतन रुका रहेगा। कलेक्टर शर्मा ने इस निर्णय की जानकारी जबलपुर प्रशासन के आधिकारिक सोशल मीडिया एकॉउंट से साझा भी की है।