गर्भवती महिला की मौत के बावजूद डाक्टर्स करते उसका इलाज, पति से जांच के नाम पर जमा करवाए पैसे

Katni-Uproar After the Death of Woman : कटनी के  डॉक्टर मंगतराम हॉस्पिटल में इलाज के दौरान महिला की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा कर दिया, यहाँ डाक्टर रूपा लालवानी महिला का इलाज कर रही थी। दरअसल परिजनों का आरोप है कि वह यहाँ उमरिया के चंदिया से यहाँ महिला को लेकर आए थे और इलाज के दौरान इस अस्पताल में उसकी मौत हो गई लेकिन उसके बावजूद डाक्टर्स ने परिजनों को इस बात की जानकारी नहीं दी और मरीज का इलाज करते रहे।  वही परिजनों से भी फीस वसूलते रहे। महिला गर्भवती थी और उसकी आंत में ब्लीडिंग शुरू हो गई थी, महिला का पति प्रदीप विश्वकर्मा उसे पहले कटनी सरकारी अस्पताल लेकर पहुंचा था लेकिन फिर बेहतर इलाज की उम्मीद में प्राइवेट अस्पताल लेकर दौड़ा, लेकिन यहाँ उसकी पत्नी की मौत के बाद भी डाक्टर्स इलाज के नाम पर तमाशा करते रहे।

महिला की मौत के बाद भी जारी रखा इलाज  

परिजनों का आरोप है कि डाक्टर्स और अस्पताल स्टाफ ने महिला की मौत के बावजूद परिजनों से ब्लड मँगवाया और जांच के नाम पर रुपये जमा करवाए, शाम को डाक्टर्स ने महिला के पति को यह कहकर महिला को किसी और अस्पताल में ले जाने के लिए कहा कि अब यहाँ उसका इलाज संभव नहीं है, महिला का पति महिला को लेकर दूसरे अस्पताल पहुंचा तो वहाँ के डाक्टर्स ने महिला को मृत घोषित कर दिया, डाक्टर्स ने महिला के पति को बताया कि महिला की बहुत देर पहले मौत हो चुकी है, यह सुनते ही पति और परिजन हैरान रह गए, वह वापस मंगतराम अस्पताल पहुंचे और उन्होंने अस्पताल में जमकर हंगामा कर दिया, हंगामे की खबर मिलते ही डाक्टर्स और स्टाफ अस्पताल छोड़कर भाग गया वही पुलिस मौके पर पहुंची, पुलिस को पति और परिजनों ने रो रोकर पूरी घटना बताई जिसके बाद पुलिस पति और महिला के शव को थाने लेकर पहुंची जहां पति की शिकायत पर पुलिस डाक्टर्स से बातचीत कर ही है।

कटनी से अभिषेक दुबे की रिपोर्ट 

 

 


About Author
Avatar

Harpreet Kaur

Other Latest News