Katni News : 20 लाख रुपए का गांजा जब्त, आठ आरोपी गिरफ्तार

Katni Hemp Smuggling News : कटनी जिले में नशा मुक्ति अभियान के तहत स्लीमनाबाद पुलिस ने गांजे की एक बड़ी खेप को पकड़ने में सफलता हासिल की है। स्लीमनाबाद पुलिस ने एक ट्रक और एक कार से 125 किलो गांजा जब्त किया। ट्रक में ग्रेनाईट लोड था और ग्रेनाईट की आड़ में गांजे से भरी 25-25 किलो की चार बोरियां रखकर तस्करी की जा रही थी। ट्रक के अलावा एक स्कॉर्पियो से पुलिस टीम ने 25 किलो गांजे से भरी बोरी भी जब्त की है। पुलिस ने इस मामले में आठ लोगों को गिरफ्तार किया है।

यह है पूरा मामला

पुलिस अधीक्षक अभिजीत कुमार रंजन ने प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि गत दिवस मुखबिर द्वारा एक ट्रक से अवैध सामग्री ले जाए जाने की खबर प्राप्त हुई थी। प्राप्त सूचना के आधार पर उमरिया पान रोड स्थित असाटी मैरिज गार्डन के सामने पुलिस बल को तैनात किया गया। तैनात पुलिसकर्मियों द्वारा आने जाने वाले वाहनों पर निगाह रखी गई इसी दौरान उमरिया पान रोड में ट्रक क्रमांक एमपी 09 एच एच 8378 तो रोक कर जब उसकी जांच की गई तो उसमें पत्थरों के साथ छिपाकर रखा गया 125 किलो गांजा बरामद हुआ। ट्रक में 4 लोग सवार थे उनसे पूछताछ की तब उन्होंने बताया कि ट्रक के पीछे-पीछे ट्रक की देखरेख के लिए एक स्कॉर्पियो भी चल रही है। इसी दौरान तेजी से आ रही एक स्कार्पियो क्रमांक यूपी 95 एल 8786 जब ट्रक को पुलिस से घिरा देख स्कार्पियो चालक गाड़ी मोड़ कर भागने का प्रयास करने लगा तो पुलिस ने उसे घेराबंदी करके दबोच लिया। स्कॉर्पियो में भी चार लोग सवार थे।

पुलिस टीम ने ट्रक और कार से करीब 125 किलो गांजा, एक कार, एक ट्रक जब्त किया है। जब्त किए गए गांजे की कीमत करीब 20 लाख, ट्रक कीमत करीब 40 लाख और कार की कीमत 10 लाख रुपए आंकी गई है।

पुलिस ने इन आरोपियों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने गांजा तस्करी के आरोप में जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया है, उसमें छतरपुर जिले के अलीपुर निवासी हारुन मंसूरी, उत्तर प्रदेश महोबा निवासी उत्तम अहिरवार, झांसी निवासी मुईन काजी, महोबा दिनेश गुप्ता, ईरशाद, खान, जितेंद्र कुमार अवस्थी, छतरपुर निवासी सोनू राय, शिवकुमार यादव हैं।

कटनी से अभिषेक दुबे की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News