कृषि मंत्री ने की किसानों से मुलाकात, खराब फसलों के लिए मुआवजे का आश्वासन

खंडवा, सुशील विधानी। कृषि मंत्री कमल पटेल एक दिवसीय प्रवास पर खंडवा पहुंचे। यहां उन्होने पुनासा तहसील के ग्राम डांग में किसानों की समस्याएं सुनी। किसानों ने उन्हें अपनी सोयाबीन की खराब हुई फसल दिखाकर मुआवजे की मांग की, जिस पर कृषि मंत्री ने कहा कि उनकी फसलों का विस्तृत सर्वे राजस्व व कृषि विभाग के अधिकारियों के माध्यम से कराया जायेगा तथा राजस्व पुस्तक परिपत्र के नवीनतम प्रावधानों के आधार पर उन्हें हर संभव मुआवजा दिलाया जायेगा।

कृषि मंत्री ने किसानों से कहा कि प्रदेश सरकार किसानों की भलाई के लिए दिनरात काम कर रही है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत भी किसानों को फसलों में हुए नुकसान की भरपाई का मुआवजा दिलाने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए शुरू से ही कृत संकल्पित है। किसानों की समस्याओं के यथासंभव निराकरण के लिए प्रयास किए जाएंगे। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत आवेदन जमा करने की तारीख बढ़ाकर 31 अगस्त तक कर दी गई है, ताकि जो किसान अभी तक फसल बीमा योजना के लिए आवेदन नहीं कर सके है वे भी इस योजना का लाभ उठा सकें। उन्होंने उप संचालक कृषि को निर्देश दिए कि किसानों को कृषि विभाग के अधिकारियों के माध्यम से समय समय पर आवश्यक मार्गदर्शन दिलाया जाए कि किस तरह किसान फसल लागत कम कर सकते हैं और अधिक उत्पादन करके अपनी आय बढ़ा सकते है। उन्होंने उप संचालक कृषि को नकली खाद बीज व कीटनाशक विक्रेताओं व उत्पादकों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर नगर महामंत्री अजय सिंह राठोड़, गोविन्द मालाकार, विशाल, विकास, साकेत प्रवीण, संदीप, कमलेश, नर्मदा प्रसाद, लोकेश,अभिषेक अन्य कार्यकर्ता भी मौजूद थे।