Khandwa : महंगाई के खिलाफ महिला कांग्रेस का प्रदर्शन, सड़क पर चूल्हे पर चाय बनाकर किया विरोध

खंडवा (Khandwa) शहर की महिला कांग्रेस द्वारा जमकर केंद्र सरकार और राज्य सरकार को आड़े हाथों लिया गया और महंगाई के खिलाफ हल्लाबोल प्रदर्शन किया गया। वहीं महिलाओं द्वारा चूल्हे पर चाय बनाकर विरोध जताया गया।

खंडवा, सुशील विधानी। केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) द्वारा पेट्रोल-डीजल (petrol-diesel) के दामों में लगातार की जा रही वृद्धि के विरोध में खंडवा (Khandwa) शहर की महिला कांग्रेस द्वारा जमकर केंद्र सरकार और राज्य सरकार को आड़े हाथों लिया गया और महंगाई के खिलाफ हल्लाबोल प्रदर्शन किया गया। वहीं महिलाओं द्वारा चूल्हे पर चाय बनाकर विरोध जताया गया।

यह भी पढ़ें…युवक ने दोस्तों के साथ शराब पार्टी कर गंवाई जान! परिजनों ने तीनों दोस्तों पर ही लगाया मौत का इल्जाम

जानकारी के अनुसार बढ़ती महंगाई, घरेलू गैस, खाद्य तेल एवं घरेलू अन्य उत्पादों सहित डीजल-पेट्रोल के दामों में आए दिन हो रही बेताहाशा बढ़ोतरी के विरोध में खंडवा महिला कांग्रेस द्वारा केंद्र सरकार के विरुद्ध आज 15 जुलाई को धरना, प्रदर्शन कर रैली निकाली गई । विरोध प्रदर्शन दोपहर 01 बजे गांधी भवन से प्रारंभ हुआ, रैली नगर निगम चौराहे तक पहुंची। जहां महिलाओं ने अपना धरना प्रदर्शन किया। बतादें कि पेट्रोलियम पदार्थों व अन्य आवश्यक वस्तुओं के दामों में लगातार वृद्धि होने व दाम पर नियंत्रण करने संबंधी कोई स्पष्ट नीति न बना पाने से केंद्र सरकार की विफलता को लेकर जिला महिला कांग्रेस ने प्रदर्शन किया है।

यह भी पढ़ें…Indian Railways 2021 : यात्री कृपया ध्यान दें…ये ट्रेंने हुई कैंसिल, इन ट्रेनों का रुट बदला

प्रदर्शन में सड़क पर चूल्हा रखा और बनाई चाय
कांग्रेसी महिलाओं ने प्रदर्शन के दौरान सड़क पर ईटों का चूल्हा बनाकर उस पर चाय बनाई। और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस मौके पर जिला अध्यक्ष महिला कांग्रेस रचना तिवारी ने केंद्र की मोदी सरकार को विफल बताते हुए कहा कि भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता को धोखे में रखकर बड़े-बड़े झूठे वादे किए और सत्ता में आते ही चंद उद्योगपतियों के लिए काम करने लगे। यही कारण है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड आयल की कीमतें न्यूनतम स्तर में होने के बाद भी देश मे सर्वोच्च स्तर पर पेट्रोल-डीजल-गैस बिक रहे है। पड़ोसी देशों में उनकी कीमत भारत की तुलना में बहुत कम है।डीजल-पेट्रोल के दाम में वृद्धि होने से महंगाई चरम पर पहुंच गई है। जहां साधारण लोगों का जीना मुश्किल होता जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के इस नीति का घोर विरोध करती है। कांग्रेस मांग करती है कि डीजल-पेट्रोल के दाम में वृद्धि को सरकार जल्द वापस ले। ताकि किसान और गरीबों को राहत मिल सके।