खंडवा, सुशील विधानी। खंडवा (Khandwa) में मंगवार को आदिवासी संगठनों ने जिले में एक रैली निकाली। साथ ही शिवराज सिंह चौहान सरकार होश में और आदिवासियों पर अत्याचार बंद करो बंद करो जल जंगल जमीन आदिवासियों की है के लिए नारे लगाए। आदिवासियों पर जिस प्रकार खंडवा जिले में अत्याचार हुआ है आदिवासियों को उनकी ही जमीन से हटाया गया है। आदिवासियों ने मांग कि की सरकार उन पर अत्याचार बंद करें। साथ ही चेतावनी दी है कि अगर मांगे पूरी नहीं हुई तो आने वाले दिनों में पूरे प्रदेश के आदिवासी संगठित होकर धरना प्रदर्शन करेंगे।

Read also… Jabalpur : खेत पर काम कर रहे किसान पर सांड का हमला, 22 दिन बाद हुई मौत

आज खंडवा, खरगोन, बड़वानी, बुरहानपुर, सहित अन्य जिलों से आदिवासी रैली निकालकर हजारों की संख्या में कलेक्टर कार्यालय के बाहर परिसर में धरना दिया और जमकर नारेबाजी की। आदिवासियों की महिला नेत्रीयों ने भी जमकर सरकार को आड़े हाथों लिया उन्होंने कहा कि सरकार वोट के लिए आदिवासियों के हाथ जोड़ती है और फिर आदिवासियों को बेदखल करती है। आदिवासियों के लिए जंगल जल जमीन मां के समान हैं लेकिन हमें हमारी मां से ही अलग किया जा रहा है। विकास के नाम पर आदिवासियों पर जो हो रहे अत्याचार अब नहीं सहेंगे।

https://vimeo.com/577261641