खंडवा में पानी की समस्या को लेकर महिलाओं ने किया नगर निगम का घेराव, जमकर की नारेबाजी

मंगलवार के दिन खंडवा के दुबे कॉलोनी की महिलाओं ने पानी समस्या को लेकर नगर निगम पहुंच जमकर हंगामा किया।

खंडवा, सुशील विधानी। खंडवा (Khandwa ) में 200 करोड़ रुपए की नर्मदा जल और 50 साल पुरानी सुकता जल शहर में होने के बावजूद शहर के कई वार्ड आज भी पानी के लिए तरस रहे हैं। आए दिन नगर निगम में घेराव होता रहता है। लोग मटकी फोड़ते हैं, बेशर्म के पौधे तक भेंट किए जाते हैं। लेकिन नगर निगम के कान में जूं तक नहीं रेंग रही। वहीं जल व्यवस्था केवल कागजों तक ही सीमित रह गई है। और आज भी कई वार्ड पानी के लिए तरस रहे हैं।

यह भी पढ़ें… इस मंत्री की घोषणा- “सबसे अधिक बच्चों के माता पिता को देंगे 1 लाख का पुरस्कार”

मंगलवार के दिन खंडवा के दुबे कॉलोनी की महिलाओं ने पानी समस्या को लेकर नगर निगम पहुंच जमकर हंगामा किया। और नगर निगम पहुंचकर सविता प्रधान आयुक्त को भी जमकर खरी-खोटी सुनाई। दुबे कॉलोनी की महिलाओं ने कहा कि पानी की किल्ल्त ने लोगों का जीना दूभर कर दिया है। महिलाओं की यही मांग थी कि उनकी बातें सुनी जाए और उनके इलाके में पानी की समस्या का निदान हो। विदित हो कि शहर में जगह-जगह जल संकट की स्थिति बन रही है। हाल ही  खंडवा की आवाज के सदस्यों द्वारा दी नगर निगम पहुंचकर बेशर्म के पौधे भेंट किए थेपानी के लिए लोगी को भटकना पड़ रहा है। सुबह और शाम खाली बर्तन लेकर महिलाओं को पानी के लिए इधर-उधर भटकते हुए देखा जा रहा है।