युवक पर चाकू तलवार से हमला, अवैध वेंडरों द्वारा ट्रेन में सामान बेचने को लेकर हुआ विवाद

खंडवा| सुशील विधानी| खंडवा जंक्शन पर अवैध वेंडरों द्वारा ट्रेन में सामान बेचने को लेकर हुए विवाद में युवक पर तलवार चाकू से हमला किया। सुबह गणेश तलाई आउटर पर अवैध वेंडर व जिलाबदर रह चुका बंटी उपाध्याय, दीपक कालिया निवासी टिमरनी, गौरव, नाना, जावेद और साथियों ने आजाद उर्फ एजाज, सुनील उर्फ चिकना पर तलवार और चाकू से वार किया, हमले में घायल एजाज की हालत गंभीर बताई जा रही है आरोपियों ने घायल व्यक्ति से नकदी और सोने की अंगूठी भी लूट ले गए हैं। सुनील के भी सिर में चोट लगी है विवाद ट्रेनों में अवैध सामग्री बेचने को लेकर हुआ है लेकिन अब तक इस मामले में ना तो जीआरपी घायलों के बयान लेने पहुंची है और ना ही कोतवाली पुलिस थाना क्षेत्र की सीमा को लेकर पुलिस उलझी है।

खंडवा रेलवे जंक्शन कुछ वर्षों से अवैध वेंडरों का गढ़ बनता जा रहा है  ट्रेनों में अवैध रूप से सामग्री बेचना और  कभी यात्रियों के साथ  तो कभी  टीसी के साथ तो कभी आपस में विवाद आए दिन देखने को मिल रहा है खंडवा रेलवे जंक्शन पर अवैध वेंडरों का जाल इस तरह फैला है कि रेलवे के अधिकारी भी इनकी और कुछ ध्यान नहीं देते हैं रेलवे जंक्शन का तीसरी आंख कहा जाने वाला सीसीटीवी कैमरे भी बंद पड़े हैं| अवैध वेंडरों का खंडवा जंक्शन सहित भुसावल मंडल और इटारसी तक कब्जा रहता है कमीशन के खेल के चलते बड़े पैमाने पर खंडवा जंक्शन में अवैध वेंडरों का खेल जारी है इसी बात का फायदा अवैध वेंडर उठाते हैं जीआरपी हो या आरपीएफ केवल औपचारिकता निभाती है कार्यवाही के नाम पर कुछ दिन तो अवैध वेंडरों का ट्रेनों में संचालन रुक जाता है फिर उसी तरह सक्रिय हो जाते हैं बड़े अधिकारियों को भी सम्मान है लेकिन अवैध वेंडरों के खेल में बड़े अधिकारी तक बात कैसे पहुंचे यहां तक कि बड़े अधिकारी जब रेलवे जंक्शन का दौरा करते हैं तो अवैध वेंडरों को दो-तीन दिन के लिए बंद कर दिया जाता है बाद में यही वेंडर जंक्शन ओपन अवैध रूप से सामग्री बेचते हुए दिखाई देते हैं|

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here