खनियाधाना : EOW की बड़ी कार्रवाई, 30 हजार की रिश्वत लेते धराया रोजगार सहायक

खनियाधाना, शिवम पाण्डेय। भ्रष्ट अधिकारियों पर नकेल कस रही EOW ग्वालियर की टीम ने शिवपुरी जिले मनरेगा के कार्यों के मस्टर भरने के एवज में महिला सरपंच के देवर बृजपाल लोधी से 30 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। एक शिकायत की जांच के बाद ये कार्रवाई की गई है।

ये भी देखें- PM मोदी बोले, देश में अब वीआईपी की जगह ईपीआई सिस्टम

जानकारी के अनुसार खनियाधाना तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत मुहारी कला के रोजगार सहायक राघवेंद्र लोधी को मनरेगा के कामों में मस्टर डालने की एवज में लगभग 4 लाख 30 हजार रुपये की डिमांड की थी। रोजगार सहायक राघवेंद्र लोधी के द्वारा सरपंच देवर से 5 परसेंट कमीशन के आधार पर पैसों की मांग की जा रही थी। मामले पर ईओडब्लू इंस्पेक्टर यशवंत गोयल और भीष्म तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि ये कार्रवाई एसपी अमित सिंह के निर्देशन में शिकायत के आधार पर की गई है। ये शिकायत ईओडब्ल्यू को महिला सरपंच के परिजनों ने की थी।

खबर के मुताबिक महिला सरपंच का देवर बृजपाल लोधी 10 हजार रुपए की पहली किस्त रविवार को ग्राम पंचायत के रोजगार सहायक राघवेंद्र लोधी को दे चुका था। दूसरी किस्त सोमवार को आज दोपहर ग्राम पंचायत भवन में दी जाना थी, जिसके बारे में ईओडब्ल्यू को जानकारी दी गई थी। वहीं दूसरी किस्त के लिये रोजगार सहायक राघवेंद्र लोधी ने महिला सरपंच अभिलाषा के देवर ब्रजपाल से 30 हजार रुपये की रिश्वत मांगी जिसे ईओडब्ल्यू की टीम ने रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए रोजगार सहायक के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।