प्रेम प्रसंग के चलते युवक ने लगाई नर्मदा में छलांग, गोताखोरों ने बचाई जान

नावघाट खेड़ी स्थित मोरटक्का पुल से एक युवक ने छलांग लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। लेकिन गोताखोरों की सूझबूझ से उसे बचा लिया गया

खरगोन, बाबूलाल सारंग। बड़वाह (Barwaha) के नावघाट खेड़ी स्थित मोरटक्का पुल से एक युवक ने छलांग लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। लेकिन गोताखोरों की सूझबूझ से उसे बचा लिया गया। और बड़वाह शासकीय अस्पताल लाया गया। सूचना मिलते ही युवक के परिजन शासकीय अस्पताल पहुंचे। इसके बाद पुलिस थाने पर शिकायत करने के लिए युवक के पिता मोरटक्का पुलिस चौकी पर गए। जानकारी के अनुसार मामला प्रेम प्रसंग का बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें…इंदौर-बिलासपुर एक्सप्रेस में युवती की हत्या, सीहोर स्टेशन पर रोकी गई ट्रेन

मामला मंगलवार दोपहर का है। जहां बड़वाह के मोरटक्का पुल से 22 वर्षीय युवक राम ने अचानक नर्मदा नदी में छलांग लगा ली। कुछ ही दूर नर्मदा तट पर गोताखोर सुनिल केवट, दिपेंद्र केवट, संजय,देवेंद्र,सतिष,बलराम बैठे हुए थे। उन लोगों ने जैसे ही युवक को कूदते देखा तो सभी साथी युवक को बचाने के लिए नाव लेकर रवाना हो गए। और 5 मिनट में ही युवक को सुरक्षित निकाल लिया। जिसके बाद युवक को बड़वाह शासकीय अस्पताल लाया गया। जहां युवक की हालत ठीक बताई जा रही है।

वही पूछताछ में युवक ने बताया की वह एक युवती से प्रेम करता है। दोनो ने लव मैरिज भी कर ली है। युवती मेरी साथ रहने को तैयार है। लेकिन युवती के परिजन उसे भेज नहीं रहे है। इसी विवाद को लेकर मेने आत्महत्या करने के लिए नर्मदा छलांग लगाई थी। सूचना मिलते ही युवक के परिजन शासकीय अस्पताल पहुंचे। इसके बाद पुलिस थाने पर शिकायत करने के लिए पिता गेंदालाल बेटे राम को लेकर मोरटक्का पुलिस चौकी पर गए।

यह भी पढ़ें…मुरैना में लुटेरी दुल्हन का शिकार हुआ युवक, शादी के दो दिन बाद लाखों के जेवरात लेकर हुई फरार