कृषि मंत्री का किसानों को लेकर बड़ा बयान-किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं..

कृषि मंत्री कमल पटेल ने ने कहा कि खरगोन जिले में सुशासन को स्थापित करने के लिए सभी आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

कृषि मंत्री कमल पटेल

खरगोन, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh)के कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) का बड़ा बयान सामने आया है। कृषि मंत्री कमल पटेल ने दो टूक शब्दों में कहा है कि किसानों के साथ धोखाधड़ी किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। खरगोन जिले में सुशासन स्थापित किया जाएगा। बेईमान होंगे दंडित और ईमानदार पुरस्कृत। 

यह भी पढ़े.. MP Weather: 4 दिन बाद फिर लगेगी झमाझम की झड़ी, मप्र के इन जिलों में बारिश के आसार

दरअसल, कृषि मंत्री और खरगोन जिले के प्रभारी मंत्री कमल पटेल मर्दलिया में नवीन मिर्ची मंडी के लोकार्पण समारोह में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नर्मदा के आंचल को छलनी करने वाले जेल की हवा खाएंगे। 5 करोड़ रुपए की राशि से मिर्ची मंडी का और अधिक विस्तार किया जाएगा।बेड़िया से मिर्ची मंडी तक जल्दी पहुंचने के लिए नहर की सड़क को विकसित किया जाएगा।

कृषि मंत्री कमल पटेल ने किसानों से आव्हान किया कि मंडी के अंदर ही अपनी उपज का विक्रय करें। यदि मंडी के भीतर किसान अपनी उपज विक्रय करेंगे तो उनके भुगतान की पूरी जिम्मेदारी कृषि उपज मंडी और कृषि विभाग की होगी। किसी भी किसान को ठगी का शिकार नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मिर्ची मंडी का नाम ठाकुर नंदकुमार सिंह चौहान के नाम पर रखे जाने संबंधी आवश्यक प्रक्रिया पूर्ण कर ली जाएगी।

यह भी पढ़े..Electricity: ऊर्जा मंत्री के सीढ़ी चढ़ने का दिखा असर, बिजली उपभोक्ताओं को मिली राहत

कृषि मंत्री कमल पटेल ने ने कहा कि खरगोन जिले में सुशासन को स्थापित करने के लिए सभी आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। इसमें किसी प्रकार की लेटलतीफी बर्दाश्त नहीं होगी। गड़बड़ी करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि नर्मदा में प्रोकलेन मशीनों से रेत का उत्खनन नहीं होने दिया जाएगा। किसी भी ग्राम में अवैध शराब, सट्टा, जुआं नहीं चलने देंगे। बेईमान और निकम्मे अधिकारियों, कर्मचारियों को दंडित करेंगे और ईमानदार लोगों को पुरस्कृत किया जाएगा।