मंदसौर जहरीली शराब कांड: एसआईटी टीम ने लिए मृतक के परिजनों के बयान, 7 संदिग्ध मौतों की हुई पुष्टि

एसआईटी प्रमुख राजेश राजौरा ने जहरीली शराब से 7 लोगो की संदिग्ध मौत होने की पुष्टि की है।

मंदसौर, गौरव त्रिपाठी। मंदसौर (Mandsaur) में जहरीली शराब (Poisonous Liquor Case) से मौत के मामले में बुधवार को गठित की गई एसआईटी टीम (SIT Team) मंदसौर पहुँची। तीन सदस्यीय एसआईटी टीम ने मृतको के घर पहुँचकर बयान लिए, साथ ही अस्पताल में भर्ती मरीजो से घटनाक्रम की जानकारी ली। इस दौरान एसआईटी प्रमुख राजेश राजौरा ने जहरीली शराब से 7 लोगो की संदिग्ध मौत होने की पुष्टि की है।

यह भी पढ़ें…मध्यप्रदेश में 3 करोड़ लोगों का वैक्सीनेशन हुआ, सीएम ने कही ये बात

मंदसौर जहरीली शराब कांड मामले में गृह विभाग द्वारा गठित की गई तीन सदस्य एसआईटी टीम बुधवार को मंदसौर पहुंची। एसआईटी टीम के प्रमुख राजेश राजौरा और टीम में शामिल अन्य दो सदस्यों ने पिपलियामंडी थाने पहुँचकर गवाहों के बयान लिए साथ ही मृतको के गांव पहुँचकर उनके परिवारजनों से मामले की जानकारी लेकर बयान दर्ज किए। मृतको के परिजनों से मिलने के बाद एसआईटी टीम ने मंदसौर पहुँचकर यहां सरकारी अस्पताल और निजी अस्पताल में भर्ती मरीजों का हाल जाना और उनके बयानों को दर्ज किया।

इस दौरान एसआईटी प्रमुख राजेश राजौरा ने अब तक शराब पीने से 7 संदिग्ध मौतों की पुष्टि की। राजेश राजौरा ने बताया कि अभी की हालत में 6 व्यक्तियों का ईलाज जारी है। जिसमे से मंदसौर के सरकारी अस्पताल में 3, निजी अस्पताल 1 मरीज इलाजरत है। वहीं आंखों की रोशनी खोने वाले 2 व्यक्तियों का इंदौर के एमवाय अस्पताल में इलाज चल रहा है। एसआईटी प्रमुख ने भरोसा जताया है कि मामले में जांच कर आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दिलवाई जाएगी।

यह भी पढ़ें… बंदरों की टोली पहुंची स्कूल, प्रिंसिपल की कुर्सी पर किया कब्जा, देखें Video