बंदरों की टोली पहुंची स्कूल, प्रिंसिपल की कुर्सी पर किया कब्जा, देखें Video

एक बंदर प्रिंसिपल के रूम तक पहुंच गया और कुर्सी पर जाकर बैठ गया। और प्रिंसीपल बेचारे उसे दूर से ही भगाते रह गए। जिसे बड़ी मशक्कत के बाद महिला टीचर ने वहां से भगाया।

gwalior dabra school

डबरा, सलिल श्रीवास्तव। मध्यप्रदेश (MP) में सोमवार से 11वीं और 12वीं के स्कूल (School) खले जा चुके हैं। वहीं स्कूल खुलते ही बच्चे स्कूल पहुंचे ना पहुंचे लेकिन बंदरों की टोली स्कूल पहुंच गई। मामला ग्वालियर (Gwalior) के डबरा (Dabra) का है। जहां शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल में बंदरों ने जमकर आतंक मचाया। जिसका वीडियो (Video) सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हो रहा है।

Read also…Jabalpur : शिक्षक की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, एक महिला सहित चार गिरफ्तार

दरअसल यह वीडियो डबरा शहर के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय का है। जहां इन दिनों बंदरों का आतंक है। बता दें कि वीडियो सोमवार का है जहां स्कूल में प्रवेश लेने के लिए बच्चे और उनके परिजन पहुंच रहे थे। वहीं स्कूल खुलते ही यहां पर एक बंदरों की टोली भी पहुंच गई। उसमें से एक बंदर प्रिंसिपल के रूम तक पहुंच गया और कुर्सी पर जाकर बैठ गया। और प्रिंसीपल बेचारे उसे दूर से ही भगाते रह गए। जिसे बड़ी मशक्कत के बाद महिला टीचर ने वहां से भगाया। वहीं इस घटना का वीडियो स्कूल के 1 स्टाफ ने बना लिया ,और अब बंदरों का वीडियो तेजी से वायरल (monkey video viral) हो रहा है।

बतादें कि स्कूल में बंदरों का डर इस कदर है कि स्कूल के टीचर तो टीचर प्रिंसीपल भी अपने ऑफिस में आने से डर रहे हैं। बंदरों की धमाचौकड़ी पूरे स्कूल में इस कदर चलती है कि बंदर बच्चों को घायल तक कर चुके हैं। अब बंदर हनुमान जी के अवतार माने जाते हैं इसलिए ग्रामवासी तो उन्हें भगाते नहीं उल्टे बंदर ही स्कूल में आने वाले बच्चों और टीचरों को परेशान करते नजर आते हैं। बतादें कि ऐसा नहीं है कि वन विभाग के अधिकारियों को इसकी शिकायत नहीं की गई है, कई बार फॉरेस्ट के अफसरों को इस मामले से अवगत कराया गया लेकिन उनकी नींद शायद कोई बड़ा हादसा होने के बाद ही खुलती है। फिलहाल बंदरों ने लगातार स्कूल पर कब्जा किया हुआ है और स्कूल में आने वाले बच्चों को बंदरों का लगातार खौफ बना हुआ है। लेकिन प्रशासन आँखें बंद किए और कान में रूई डाले चैन की नींद ले रहा है।

Read also… ओलंपिक में गोल्ड मेडल की जीत की खुशी, उत्साह में निकली पदक विजेता के मुंह से गाली