मुख्यमंत्री शिवराज के आदेश पर हुई अवैध डंप रेत पर कार्यवाही, चंबल में कलेक्टर ने जेसीबी से कराया नष्ट

illegal sand

मुरैना, संजय दीक्षित। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM shivraj singh chauhan) के निर्देश के बाद कलेक्टर (collector) के मार्गदर्शन में भारी पुलिस बल के साथ अवैध डंप रेत (illegal dump sand) पर कार्यवाही की गयी हैं। रेत माफियाओं (sand mafia) के अवैध उत्खनन व परिवहन को रोकने के लिए पुलिस व वन विभाग ने शनिवार को चंबल राज घाट (chambal raj ghat) के पास जैतपुर, भानपुर पर डंप रेत को फैलाकर जेसीबी (JCB) से नष्ट कराया। एसपी, एएसपी, एसडीएम, राजस्व अधिकारी व वन विभाग के कर्मचारी चंबल नदी घाट के पास पहुँचे और अवैध रेत माफियाओं के डंप रेत को नष्ट करने की कार्यवाही की गई।

चंबल के घाट पर एक किमी के एरिया में डंप किए गए रेत को 5 जेसीबी मशीनों के माध्यम से मि्टटी में मिलवाया गया। सुबह 7 बजे से दोपहर 1 बजे तक करीब 2500 ट्रॉली से ज्यादा मात्रा के डंप को पुलिस ने अनुपयोगी कर दिया हैं। इस रेत की  कीमत डेढ करोड़ बतायी गयी हैं। पुलिस ने देखा कि रेत कारोबारियों ने घाट से निकाले रेत को चंबल के ऊपर डंप कर दिया है ताकि रेत को सुरक्षित स्थानों से उठाकर महंगे दामों में बेचने के लिए ले जाया जा सके।कई बार डंप रेत को जेसीबी से नष्ट कराया गया हैं लेकिन मिट्टी में मिलाने के बाद अवैध रेत के कारोबारी उसे भरकर बेच आते हैं।

शहर में  सरकारी बिल्डिंगों और सरकारी ठेकेदारों द्वारा निर्माण कार्य में अवैध चम्बल की रेत का उपयोग किया जा रहा है। लेकिन कार्यवाही के नाम पर आला अधिकारी मौन बने हुए हैं। डंप रेत पर इधर-उधर कार्यवाही करके वे अपनी पीठ  खुद ही थपथपा लेते हैं।वहीं आज की कार्यवाही की सबसे बड़ी बात ये रही कि भारी संख्या में पुलिस व वन विभाग का अमला मौजूद था। सुबह से ही नेशनल हाई वे पर रेत से भरे ट्रैक्टर, ट्रॉली फर्राटे मारते हुए नजर आ रहे थे लेकिन आज पुलिस ने एक भी रेत से भरे वाहनों को नहीं पकड़ा। खबर लिखे जाने तक चम्बल राज घाट के आसपास कार्यवाही निरंतर जारी है।