CM Helpline: लंबित प्रकरणों का निराकरण ना करने पर कार्रवाई, पंचायत सचिव तत्काल प्रभाव से निलंबित

वहीं पंचायत सचिव का प्रभार रोजगार सहायक सूरज प्रजापति को सौंपा गया है।

रिश्वत

मुरैना, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के मुरैना (muraina) जिले में सीएम हेल्पलाइन (CM Helpline) की शिकायत प्रकरण लंबित हैं। जिस के बाद अब कलेक्टर (collector) ने कार्रवाई शुरू की है। वही सीएम हेल्पलाइन में लापरवाही बरतने पर ग्राम पंचायत के सचिव (Secretary) पर गाज गिरी है। जिसके बाद जिला पंचायत सीईओ (panchayt CEO) रोशन कुमार सिंह द्वारा पंचायत सचिव कन्हैयालाल धाकड़ (Kanhaiya lal dhakad) को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया।

दरअसल सीएम हेल्पलाइन की लंबित मामले में अब मुरैना जिला पिछड़ता नजर आ रहा है। लंबे समय से प्रकरणों का निराकरण नहीं किए जाने के बाद कलेक्टर द्वारा विभागीय कार्रवाई शुरू की गई है। वहीं प्रमुख विभागों का निरीक्षण करना भी शुरू किया गया है। बता दें कि इससे पहले पहाड़गंज जनपद सीईओ द्वारा 6 पंचायत के प्रधानों को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए 2 दिन में जवाब मांगा गया था।

Read More: MP Weather Alert: इन जिलों में आज गरज-चमक के साथ बारिश के आसार, येलो अलर्ट

अब इस मामले में सबसे पहली कार्रवाई कैलारस जनपद की मालीबाजना ग्राम पंचायत के पंचायत सचिव कन्हैयालाल धाकड़ के खिलाफ हुई है। जहां लापरवाही के आरोप में उन्हें निलंबित किया गया है। वहीं पंचायत सचिव का प्रभार रोजगार सहायक सूरज प्रजापति को सौंपा गया है।

इन पंचायत प्रधानों को निर्माण कार्य में लापरवाही बरतने के कारण नोटिस जारी किया गया था। वही कलेक्टर द्वारा सभी अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए हैं। इसमें कहा गया है कि किसी भी सूरत में सीएम हेल्पलाइन के लंबित मामलों का निराकरण किया जाए और वही लापरवाही बरतने वाले अफसरों कर्मचारियों पर कार्रवाई की जा रही है।