वन विभाग ने महिला पुलिस थाने पर रखे डंप रेत को किया जब्त, ठेकेदार सहित कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

वन विभाग की एसडीओ रेत माफियाओं के निशाने पर रहती हैं। इसलिए बीते दो महीने में उन पर 12 बार हमला हो चुके है। लेकिन पुलिस आरोपियों पर कोई भी कार्रवाई नहीं करती हैं।

मुरैना, संजय दीक्षित। मुरैना (morena) में वन विभाग (Forest department) की एसडीओ ने रेत माफियाओं (sand mafia) के खिलाफ कार्रवाई की है। एसडीओ ने महिला पुलिस थाने पर रखे डंप रेत और मिक्सर को जब्त भी किया है और शुक्रवार दोपहर सरकारी इमारत में चम्बल रेत का उपयोग करते हुए ठेकेदार सहित अन्य लोगों के खिलाफ मामला भी दर्ज किया हैं।

यह भी पढ़ें…SBI के 44 करोड़ ग्राहकों के लिए Alert, 2 दिन तक बाधित रहेंगी ये सेवाएं

जानकारी के अनुसार वन विभाग की एसडीओ श्रद्धा पांढरे को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि सिटी कोतवाली थाने के पीछे बन रहे महिला पुलिस थाने में चम्बल नदी के रेत का प्रयोग किया जा रहा हैं। जिसके बाद एसडीओ ने टीम के साथ उस जगह दबिश दी तो काफी मात्रा में डंप रेत पड़ा हुआ मिला और मौके पर मिक्सर मशीन भी रखी हुई थी। वन विभाग की टीम ने डंप रेत के सेंपल लेकर कार्रवाई के लिए इकट्ठा किए। वहीं पूछताछ में मौके पर कार्य कर रहे बलवीर कुशवाह ने बताया कि ठेकेदार मनीष कौशिक वनखण्डी रोड गोपालपुरा के द्वारा कार्य कराया जा रहा है। इसमें निर्भया पाल सब इंजीनियर और बृजेश जाटव एसडीओ पुलिस हाउसिंग बोर्ड के द्वारा देखरेख की जा रही है।

एसडीओ पर हो चुके है 12 हमले
वन विभाग की एसडीओ रेत माफियाओं के निशाने पर रहती हैं। इसलिए बीते दो महीने में उन पर 12 बार हमला हो चुके है। लेकिन पुलिस आरोपियों पर कोई भी कार्रवाई नहीं करती हैं। बावजूद इसके वो लगातार माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करती रहती है। और उसी कड़ी में शुक्रवार को सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के पीछे बन रहे महिला थाने पर वन विभाग की एसडीओ श्रद्धा पांढरे ने टीम के साथ डंप रेत पर कार्रवाई की हैं। वन विभाग की टीम ने मौके पर डंप रेत के साथ मिक्सर मशीन को भी जब्त किया है।

यह भी पढ़ें…Satna : महिला को प्रेम जाल में फंसा कर बदलवाया धर्म, 13 साल की हुई बेटी तो थाना पहुंचा मामला, पढ़ें पूरी खबर

इस मामले में एसडीओ श्रद्धा पांढरे ने बताया कि गश्ती भृमण के दौरान काफी मात्रा में सिटी कोतवाली के पीछे डंप रेत पड़ा हुआ था। जाँच में पाया गया कि महिला थाने में अवैध चम्बल रेत से निर्माण कार्य किया जा रहा हैं। करीब 20 से 25 ट्रैक्टर ट्रॉली रेत और मिक्सर मशीन को जप्त कर पंचनामा बनाकर इंजीनियर और ठेकेदार के खिलाफ सिटी कोतवाली में मामला दर्ज कराया जाएगा। मौके पर पटवारी को बुलाकर जमीन मालिक के खिलाफ भी मामला दर्ज किया जाएगा। इसके साथ ही बड़ोखर में स्थित हनुमान मंदिर के पीछे बने तालाब पर भी चम्बल रेत से निर्माणाधीन कार्य चल रहा था। डंप रेत ठेकेदार के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही हैं। और बड़ोखर के पास बने तालाब में डंप रखने वाले के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। रेत माफिया मुझ पर और मेरी टीम पर फायर करते हैं लेकिन पुलिस हमारी शिकायत पर सही से एफआईआर भी नहीं करती है।