Morena : वार्ड में भर्ती मरीज ने तोड़ा दम, परिजनों ने लापरवाही का लगाया आरोप

सूचना मिलते ही एसडीएम, सीएसपी, सिविल सर्जन और पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और हंगामा कर रहे लोगों को समझाकर शव को पीएम हाउस भिजवा दिया। जहाँ डॉक्टरों की टीम द्वारा पीएम करवाया गया है।

मुरैना, संजय दीक्षित। मुरैना (Morena) के स्टेशन थाना क्षेत्र के गोटे नगर में रहने वाले युवक की बीती रात अचानक तबियत खराब हुई। जिसके बाद परिजन युवक को लेकर जिला अस्पताल लेकर पहुँचे। जहाँ डॉक्टरों ने अस्पताल में युवक को भर्ती करा। पेट दर्द की शिकायत के बाद जिला अस्पताल में भर्ती हुए मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए अस्पताल में हंगामा किया।

यह भी पढ़ें…Dewas : इंद्रदेव को मानाने के लिए बालगढ़ में शुरू हुआ बाग रसोई का आयोजन

जानकारी के अनुसार वार्ड नगर 26 के उत्तरपुरा-गोटेनगर निवासी 51 वर्षीय चंदन सिंह जाटव को रविवार तड़के 4 बजे से पेट में तेज दर्द शुरू होने लगा था। परिजनों ने घर पर ही पुदीना हरा व अन्य घरेलू नुस्खे दिए पर चंदन सिंह का दर्द और बढ़ता गया। उसके बाद सुबह साढ़े 6 बजे चंदन सिंह को जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां इमरजेंसी में बैठे डॉक्टर ने चंदन सिंह को मेल मेडिकल वार्ड में भर्ती करवा दिया।

गलत इंजेक्शन लगने से हुई मौत
जब युवक के परिजन वार्ड के सिस्टर के पास पहुंचे तो सिस्टर ने आने में आनाकानी की जिसके बाद परिजन वार्ड में मौजूद सिस्टर के पास मरीज को लेकर पहुँचे। जहां पर नर्स ने मरीज को एक इंजेक्शन लगा दिया। और इंजेक्टशन लगने के एक घंटे बाद ही रविवार दोपहर 12 बजे के करीब चंदन सिंह झटपटाते हुए पलंगे से गिर पड़े और वहीं दम तोड़ दिया। मृतक के बेटे अभिषेक व साले मनोज जाटव ने बताया कि सुबह 11 बजे नर्स ने इंजेक्शन लगाया। पहले चंदन सिंह ठीक थे और वार्ड में टहल रहे थे, पर इंजेक्शन लगने के बाद उनकी तबियत बिगड़ने के बाद झटपटाने हुए पलंग से गिर पड़े और वहीं दम तोड़ दिया। मृतक के परिजनों का आरोप है कि इंजेक्शन लगाने के थोड़ी देर बाद उनकी मौत हो गयी। इलाज में लापरवाही का आरोप लगाकर परिजनों ने हंगामा कर दिया। सूचना मिलते ही एसडीएम, सीएसपी, सिविल सर्जन और पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और हंगामा कर रहे लोगों को समझाकर शव को पीएम हाउस भिजवा दिया। जहाँ डॉक्टरों की टीम द्वारा पीएम करवाया गया है। सिविल सर्जन विनोद गुप्ता ने बताया कि पीएम के बाद ही सारी स्थिति का पता चलेगा कि किन कारणों से युवक की मौत हुई है।

यह भी पढ़ें…MP Olympic Association: रमेश मेंदोला को अध्‍यक्ष की जिम्मेदारी, दिग्विजय सिंह बने सचिव