Morena: पशु डॉक्टरों की बड़ी लापरवाही आई सामने, 4 बकरियों का गाड़ी में कर डाला पोस्टमार्टम

मृत चारों बकरियों को पशु चिकित्सालय में पीएम हाउस के लिए रखवा दिया था। जहाँ डॉक्टरों के द्वारा वाहन में ही पोस्टमार्टम कर दिया गया और विसरा पदार्थ निकालकर जाँच के लिए भेज दिया है।

मुरैना, संजय दीक्षित। मुरैना (Morena) में पशु चिकित्सकों (Veterinary doctors) की बड़ी लापरवाही देखने को मिली। जहां चिकित्सकों ने चार बकरियों का पिकअप वाहन में ही पोस्टमार्टम (post mortem) कर डाला। जानकारी के अनुसार सिविल लाइन थाना क्षेत्र के कैथोदा गांव का है। जहां बीती शाम खेतों में चरने गयी चार बकरियों की शुक्रवार सुबह मौत हो गयी और तीन की हालत गंभीर बनी हुई है। मृत चारों बकरियों को पशु चिकित्सालय में पीएम हाउस के लिए रखवा दिया था। जहाँ डॉक्टरों के द्वारा वाहन में ही पोस्टमार्टम कर दिया गया और विसरा पदार्थ निकालकर जाँच के लिए भेज दिया है।

यह भी पढ़ें…Jabalpur : क्राइम ब्रांच का कर्मी बन फर्जी पत्रकारों ने ड्राइवर से ऐंठे हजारों रूपए, थाने पहुंचा मामला

जानकारी के अनुसार कैथोदा निवासी बकरी मालिक बच्चू कुशवाह की बकरियां शाम को खेत मे चरने गयी थी। तभी सुबह बकरी मालिक ने देखा तो आज सुबह चार बकरियों की मौत हो गयी। जबकि तीन की हालत गंभीर बनी हुई थी आननफानन में बकरियों को पशु चिकित्सालय लाया गया है जहां डॉक्टरों के द्वारा दवा दी गयी है लेकिन हालत में सुधार नही बताया गया है।

बकरी मालिक का कहना है कि बढ़पुरा गांव के कप्तान कुशवाह ने खेत और रोड पर दवाई का छिड़काव कर दिया था। खेत पर चरने गयी बकरियों ने घास फूस के साथ कुछ जहरीली दवाई खा ली थी। जिस कारण उनकी मौत हो गयी। बकरियों को लेकर सुबह 8 बजे लेकर पशु चिकित्सालय में पहुंचे लेकिन दोपहर 12 बजे तक कोई भी डॉक्टर मौके पर नहीं था। जो कि मृत बकरियों का पीएम और गम्भीर हालात में बकरियों का उपचार कर सके। काफी देर बाद डॉक्टर स्वामी अस्पताल पहुँचे। वहां उन्होंने वाहन में ही बकरियों का पोस्टमार्टम किया।

मुरैना में बकरियों का पोस्टमार्टम करते समय डॉक्टर की बड़ी लापरवाही सामने आयी हैं। जहाँ डॉक्टर ने मृत बकरियों को गाड़ी से न उतारते हुए (छोटा हाथी) गाड़ी के अंदर ही पोस्टमार्टम कर डाला और डिब्बों में विसरा पदार्थ भरकर जाँच के लिए भेज दिया है। अब ये तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद पता चलेगा कि बकरियों की मौत किन कारणों से हुई है। फिलहाल पुलिस ने फरियादी से आवेदन लेकर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

यह भी पढ़ें…Ratlam : भाजपा नेता के बेटे पर लगा छेड़खानी का आरोप, जुलुस निकालते लोग ले गए थाने, रात को हुआ समझौता, जाने पूरा मामला