Ratlam : भाजपा नेता के बेटे पर लगा छेड़खानी का आरोप, जुलुस निकालते लोग ले गए थाने, रात को हुआ समझौता, जाने पूरा मामला

मामला अब चर्चा का विषय बन रहा है अब देखना है कि भाजपा इस पूरे मामले में क्या कोई अनुशासनात्मक कार्रवाई संगठन के कार्यकर्ताओं पर करती है या नहीं।

ratlam crime news

रतलाम, मनोज श्रीवास्तव। रतलाम (Ratlam) जिले में एक बीएड (B.Ed) की छात्रा से छेड़खानी का मामला सामने आया है। छेड़छाड़ का आरोप भाजपा नेता (BJP leader) सांसद प्रतिनिधि एवं पूर्व जिला प्रवक्ता के पुत्र राजेश पर लगा है। जिसके बाद करीब 15-20 लोगों ने प्रशासक राजेश कर्णधार की जमकर पिटाई की और पीटते हुए थाने ले गए।

यह भी पढ़ें…Tokyo Olympics 2020: पीवी सिंधु की सेमीफाइनल में एंट्री, एक और मेडल के करीब भारत

जानकारी के अनुसार नामली निवासी भाजपा नेता के पुत्र राजेश कर्णधार पर बुद्धेश्वर रोड स्थित शांतिनिकेतन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की बीएड में पढ़ने वाली छात्रा ने छेड़खानी का आरोप लगाया। जिसके बाद भाजपा संगठन से जुड़े छात्र संगठन के 15 से 20 लोग कॉलेज पहुंचे। और वहां के प्रशासन एवं अकाउंट एड राजेश को बुरी तरह मारते हुए जुलूस निकालते हुए दीनदयाल था लेकर पहुंचे। इस दौरान उनकी खुलेआम गुंडागर्दी नजर आई। वहीं थाने पर 4 से 5 घंटे तक यह हाई वोल्टेज ड्रामा होता रहा। क्योंकि आरोपी और फरियादी दोनों ही एक ही पार्टी के कार्यकर्ता थे इसलिए कई वरिष्ठ नेता एवं छोटे नेताओं के द्वारा लगाकर समझौते का प्रयास किया गया। इसके पश्चात पुलिस के द्वारा राजेश कर्णधार के विरुद्ध छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया गया। तत्पश्चात देर रात को दोनों पक्षों में समझौता भी हो गया सूत्रों द्वारा बताया जा रहा है कि मामला पार्टी में आपसी रंजिश का भी हो सकता है।

वहीं आरोपी राजेश कर्णधार का कहना है कि मेरा काम कालेज की प्रशासनिक व्यवस्था और अकाउंट को देखना है। जिस महिला छात्रा के द्वारा रिपोर्ट लिखाई गई है वह B.Ed की छात्रा है तथा उनके द्वारा एडमिशन के समय मात्र 6 हजार फीस जमा कराई गई थी। उसके पश्चात उनके द्वारा कोई फीस जमा नहीं की गई तथा 8 माह की फीस बाकी थी। उनके द्वारा महिला छात्रा से फीस जमा कराने को कहा गया था कि एग्जाम के पहले वह फीस जमा कर दें। इसके पश्चात महिला छात्रा के द्वारा अपने पति को फोन लगाया गया तथा उसके पति के द्वारा मुझे गाली-गलौज कर फोन पर डराया धमकाया गया और कुछ समय पश्चात 15-20 लोग मेरे चैम्बर में घुस गए और मेरे साथ बुरी तरह मारपीट की और पूरे रास्ते मारते हुए पुलिस थाने ले गए। कॉलेज में बहुत से लोग और स्टाफ थे किसी से भी पूछा जा सकता है मैंने कोई छेड़खानी नहीं की है।

इधर मामले में महिला के पति का कहना है कि रविवार को उनकी पत्नी आवश्यक दस्तावेज जमा कराने कॉलेज गई थी। इस दौरान राजेश के द्वारा उसका हाथ पकड़कर छेड़छाड़ की गई। घबराहट में उनकी पत्नी के डॉक्यूमेंट और मोबाइल नीचे गिर गया। जिसे उठाकर राजेश ने पुनः उन्हें लौटाया और धमकाया कि किसी को बताना मत उसके पश्चात घबराई हुई महिला घर आ गई। कल पुनः वह फिर कॉलेज में अपने कुछ गुम हुए दस्तावेज लेने गई तो उसके साथ पुनः छेड़छाड़ की गई। साथ ही पत्नी को जान से मारने की धमकी भी दी गई।

काफी गहमागहमी और जद्दोजहद के पश्चात शाम को छेड़छाड़ का मामला दर्ज हुआ और रात को दोनों पक्ष में मामले में समझौता होकर पटाक्षेप हो गया। हालाकी मुकदमा दर्ज हो गया है जिसके कारण अब मामले की समाप्ति न्यायालय में ही हो सकेगी। मामला अब चर्चा का विषय बन रहा है अब देखना है कि भाजपा इस पूरे मामले में क्या कोई अनुशासनात्मक कार्रवाई संगठन के कार्यकर्ताओं पर करती है या नहीं।

यह भी पढ़ें… ‘कैप्टन कूल’ का डैशिंग लुक! नई हेयरस्टाइल में धोनी की फोटोज सोशल मीडिया पर हो रही है जमकर वायरल..