MP News: भाजपा विधायक ने खोला मोर्चा, बिजली समस्या को लेकर दिया धरना

सरकार को प्रदेश की इस बड़ी समस्या को लेकर गंभीर होना होगा वर्ना बिजली समस्या का जो नतीजा कांग्रेस को भुगतना पड़ा वो भाजपा को भुगतना पड़ेगा, नाश हो जाएगा सरकार का, बर्बाद हो जाएगी

सतना, पुष्पराज सिंह बघेल। अपनी ही सरकार को आड़े हाथों लेकर सतना जिले के मैहर भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी (BJP MLA Narayan Tripathi)  एक बार फिर सुर्खियों में है।  उन्होंने अपनी ही सरकार को नसीहत देते हुए दो टूक लहजे में कहा अगर बिजली को लेकर सरकार गम्भीर नहीं हुईं तो 2003 में कांग्रेस सरकार की तरह बड़ा झटका खा सकती है और फिर दोबारा कांग्रेस की तरह सत्ता में आने के लिए तरसेगी।  घंटो चले धरना (सत्याग्रह) के बाद विधायक ने बिजली समस्या को लेकर एसई जी डी त्रिपाठी को ज्ञापन सौंपा साथ ही कहा कि अगर समस्या का हल नहीं निकला तो आगामी दिनों में जबलपुर दफ्तर में सीएमडी किरण गोपाल का घेराव करेंगे।

भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी (BJP MLA Narayan Tripathi)बीते एक माह से बिजली समस्या को लेकर लगातार बिजली अधिकारी व ऊर्जा मंत्री से लेकर सरकार तक सभी को जगाने का काम कर रहे हैं। जिसको लेकर अब वो सरकार के खिलाफ मंच पर अलग दिखाई दे रहे हैं।   विधायक ने कहा कि बिजली समस्या प्रदेश की सबसे बड़ी समस्या बन गयी है जिसमें कोई सुनने को तैयार नहीं है। अब ये समस्या जिले के अधिकारियों के बस की बात नहीं।  इसे सीएमडी ऊर्जा विभाग और मुख्य मंत्री ही हल कर सकते हैं ।

ये भी पढ़ें – विधानसभा में नमाज के लिए अलग से कमरा अलॉट, विधायक ने कहा मंदिर भी बनवाओ

भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा कि कोई भले ही इसे बगावत कहे , लेकिन हम सरकार के शुभचिंतक हैं उसे जगाने का काम करते हैं। सरकार को प्रदेश की इस बड़ी समस्या को लेकर गंभीर होना होगा वर्ना बिजली समस्या का जो नतीजा कांग्रेस को भुगतना पड़ा वो भाजपा को भुगतना पड़ेगा, नाश हो जाएगा सरकार का, बर्बाद हो जाएगी।

ये भी पढ़ें – पूर्व मुख्यमंत्री ने 86 वर्ष की उम्र में पास की 10वीं की परीक्षा, मिले 88% अंक

विधायक नारायण त्रिपाठी ने सतना में बिजली कंपनी के कार्यालय के सामने धरना दिया और एक ज्ञापन सौंपा। उन्होंने कहा कि यदि 15 दिन में समस्या का हल नहीं हुआ तो सीएमडी का घेराव किया जाएगा।  खास बात ये थी भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी के सत्याग्रह मंच पर भाजपा के अलावा कई दल के नेता मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें – MP Transfer : मध्यप्रदेश में फिर हुए थोकबंद तबादले, देखें लिस्ट