Murder : खाने में गरम रोटी नहीं परोसना पड़ा एक मां पर भारी, कलयुगी बेटे ने कर दी हत्या

मां बेटे के बीच खाने में गर्म रोटी ना परोसने को लेकर विवाद हुआ। देखते ही देख दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि बेटे ने गुस्से में आकर मां के सिर पर लगातार पत्थर से वार कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। हत्या के आरोपी 22 साल के ओमप्रकाश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

gwalior

छिंदवाड़ा,डेस्क रिपोर्ट। मां को भगवान का धरती पर रूप कहा जाता है। माना जाता है कि जिसने मां-बाप की सेवा कर ली उसने भगवान की पूजा कर ली। मां का प्रेम (Mother’s Love) अपनी संतान के लिए हमेशा बढ़ता है। एक मां ही होती है, जिसे सिर्फ इस बात कि चिंता सताती है कि उसके बच्चे ने खाना खाया या नहीं। मां के हाथ के खाने का स्वाद (Taste) दुनिया के मंहगे से मंहगे होटल का खाना मैच नहीं कर सकता। मां का अपने बच्चे से रिश्ता दुनिया में सबसे पवित्र (purest relation) माना जाता है, पर जिस खबर के बारे में हम आपको बताने जा रहे है, उसमें मां-बेटे जैसे पवित्र रिश्ते पर कलंक लगाने का काम किया है। प्रदेश के छिंदवाड़ा (Chhindwara) जिले में महज इस बात को लेकर एक बेटे ने अपनी मां की हत्या (Murder) कर दी कि उसकी मां ने उसके लिए गर्म रोटी बनाने से इंकार कर दिया था। जिससे गुस्साए बेटे ने मां का सर पत्थर से कुचलकर उसकी हत्या (Murder) कर दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है।

ये भी पढ़े- MP News : उत्कृष्ट और मॉडल स्कूलों में प्रवेश फॉर्म की बढ़ी तारीख, 15 फरवरी तक कर सकते हैं आवेदन

पूरे मामले को लेकर एडिशनल एसपी बताते है कि अक्सर मां बेटे के बीच में झगड़ा (Conflicts) होता रहता था। पिता की मौत (Post Father Demise) के बाद से ही मां बेटे किसी ना किसी बात को लेकर झगड़ते (Quarrel) रहते थे। शनिवार की सुबह मां बेटे के बीच खाने में गर्म रोटी ना परोसने को लेकर विवाद हुआ। देखते ही देख दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि बेटे ने गुस्से में आकर मां के सिर पर लगातार पत्थर से वार कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। हत्या के आरोपी 22 साल के ओमप्रकाश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं आरोपी के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, मृतक का नाम बेबी बाई परतेती है। जिनकी उम्र 48 साल थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here