नीमच, कमलेश सारडा। नीमच (Neemuch) शहर में एक नाबालिग (minor) की जबरन शादी करवाने और बाल तस्करी का मामला सामने आया है। जहां जबरजस्ती शादी करवाने वाले एक गैंग का पर्दाफाश किया है। और पुलिस (police) ने 3 पुरुष और 3 महिला को गिरफ्तार (Arrested) किया है। वहीं नाबालिक को सुरक्षित बचा लिया गया है।

यह भी पढ़ें…मंत्री विश्वास सारंग ने कांग्रेस पर साधा निशाना, दिग्विजय के लिए कही यह बात

पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार बघाना पुलिस थाना में एक नाबालिग की मां ने शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत में कहा गया था कि उसकी लड़की को कोई अज्ञात व्यक्ति ले गया है। शिकायत पर कार्रवाई करते हुए सायबर सेल (cyber cell) की मदद से पुलिस को नाबालिग के सम्बंध में जानकारी प्राप्त हुई। जहां पुलिस को युवती की लोकेशन राजस्थान के पास चित्तौड़गढ़ पता चली। जिसके बाद पुलिस सायबर सेल की मदद व मुखबिर की सूचना पर चित्तौड़गढ़ पहुंची। उसके बाद वहां पर पुलिस को रजिया व राजेन्द्र सिंह नमक व्यक्ति मिले। जिन्होने बताया की नाबालिग लड़की भीलवाड़ा के किसी लड़के के साथ गुजरात के सूरत में है। जिसके बाद पुलिस दल सूरत रवाना हुआ। और जहां से नाबालिग को दशरथ सिंह के कब्जे से छुड़ाया गया।

यह भी पढ़ें…Sex Racket: वेबसाइट से होती थी ग्राहकों की बुकिंग, दूसरे राज्यों से बुलाई जाती थी लड़कियां

1 लाख रुपये लेकर कर दी थी शादी
पूछताछ के दौरान आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वे नाबालिग को नीमच से राजस्थान के बड़ी सादड़ी लेकर गए थे। जहां पर आरोपियों ने इनके रिश्तेदारों से मिलकर दशरथ सिंह से 1 लाख रुपये लेकर गांव शिवपुर भीलवाड़ा राजस्थान में शादी करवा दी। नाबालिग के बयान के आधार पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया है। वहीं 1 लाख रुपये में बेचकर जबरजस्ती शादी करवाने वाले पूरे गैंग के सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार हुए अभियुक्तों में टीम महिला और तीन पुरुष शामिल है।