Neemuch पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ के खिलाफ की कार्रवाई, एक तस्कर को किया गिरफ्तार

पुलिस ने आरोपी के पास से अवैध डोडाचूरा समेत चार पहिया वाहन को जब्त कर लिया है, जिसकी कुल कीमत 15 लाख रूपए बताई जा रही है।

arrest

Neemuch News: मध्य प्रदेश के नीमच जिले में पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। दरअसल, पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ डोडाचूरा के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार कर लिया है। इस दौरान पुलिस को तस्कर के पास से कुल 60 किलोग्राम अवैध डोडाचूरा बरामद हुआ है। फिलहला, पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवआई शुरू कर दी है।

मुखबिर से मिली सूचना

नीमच जिले के पुलिस चौकरी सरवानिया महाराज को मुखबिर से सूचना मिली थी कि अवैध डोडाचूरा का परिवहन किया जा रहा है। वहीं, पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए कलेपुर फंटा धामनिया रोड पर नाकाबंदी करते हुए एक चार पहिया वाहन RJ 45 CE 0896 को रूकवाकर तलाशी ली। इस दौरान पुलिस को काले रंग के 5 कट्टों में भरा कुल 60 किलोग्राम अवैध डोडाचूरा मिला।

कुल 15 लाख रूपए का सामान बरामद

पकड़े गए आरोपी का नाम कैलाश पिता रामलाल गाडरी उम्र 22 साल निवासी सादड़ी थाना रेलमगरा जिला राजसमंद, राजस्थान है। इस दौरान पुलिस ने आरोपी के पास से अवैध डोडाचूरा समेत चार पहिया वाहन को जब्त कर लिया है, जिसकी कुल कीमत 15 लाख रूपए बताई जा रही है। फिलहाल, पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए अवैध डोडाचूरा के तस्करी मामले में पूछताछ शुरू कर दी है। वहीं, इस कार्य में चौकी प्रभारी सरवानिया महाराज एवं उनकी टीम की सराहनीय भूमिका रही।

 नीमच से कमलेश सारडा की रिपोर्ट


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है–खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालोमैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।

Other Latest News