अब प्रत्याशी मांग रहे चुनाव खर्च का मुआवजा, समर्थन में आई कांग्रेस, चलाएगी अभियान

पंचायत चुनाव में खड़े हुए एक प्रत्याशी ने तो सीएम हेल्प लाइन पर शिकायत कर मुआवजा मांगा है।

पंचायत चुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्य प्रदेश पंचायत चुनावों (MP Panchayat Election) के निरस्त होने के बाद अब नामांकन पर्चे दाखिल कर चुके प्रत्याशी चुनाव खर्च का मुआवजा मांग रहे हैं (Candidates are demanding compensation for election expenses)। प्रत्याशी इसकी शिकायत सीएम हेल्प लाइन पर कर रहे हैं। खास बात ये है कि मुआवजा मांग रहे प्रत्याशियों को कांग्रेस का भी समर्थन मिल रहा है। कांग्रेस (MP Congress) ने इसके लिए प्रदेश में पोलखोल अभियान चलाने का फैसला किया है।

पहले और दूसरे चरण के नामांकन पर्चे दाखिल होने के बाद निरस्त हुए मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव में भले ही निर्वाचन आयोग ने जमानत राशि वापस करने के निर्देश दे दिए हो लेकिन अब प्रत्याशी 6 जनवरी को होने वाले मतदान से कुछ दिन पूर्व चुनाव निरस्त किये जाने से खासे नाराज हैं। प्रत्याशियों का कहना है कि उन्होंने प्रचार पर बहुत पैसा खर्च किया है इसलिए सरकार इसका मुआवजा दे।

ये भी पढ़ें – अब कब होंगे एमपी में पंचायत चुनाव! सबकी निगाहें सुप्रीम आदेश पर

मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के आलोट जनपद पंचायत के वार्ड क्रमांक 6 के प्रत्याशी भारत सिंह परिहार ने सीएम हेल्प लाइन पर शिकायत कर चुनाव में हुए खर्च का मुआवजा देने की मांग की है। उनकी ऑडियो खूब वायरल हो रही है । इसी तरह विदिशा के वार्ड 9 से जनपद सदस्य का चुनाव लड़ रहे राजेंद्र शर्मा ने भी सरकार से मुआवजा मांगा है। प्रत्याशियों का कहना है कि उन्होंने चुनावों की तयारी पर बहुत पैसा खर्च किया है। प्रचार शुरू  कर दिया था, पम्पलेट , सहित अन्य प्रचार सामग्री की तैयारी कर ली थी। इसमें लाखो रुपये तक खर्च हो गए। प्रत्याशियों की मांग को अब कांग्रेस का भी समर्थन मिल गया है।

ये भी पढ़ें – MP Weather: इन जिलों में आज बारिश का अलर्ट, ओले गिरने के आसार, जानें अपने शहर का हाल 

शिवराज सरकार पर हमले का मौका नहीं गंवाते हुए कांग्रेस ने मुआवजा मांगने वाले का समर्थन शुरू कर दिया है।  कांग्रेस के मध्य प्रदेश प्रभारी चंद्र प्रभाष शेखर के मुताबिक कांग्रेस इसके खिलाफ प्रदेश भर में पोल खोल अभियान चलाएगी।  पार्टी ने कमेटी का गठन कर दिया है जिसे कोंग्रेस प्रवक्ता भूपेंद्र गुप्ता लीड करेंगे।

ये भी पढ़ें – “बचपन का प्यार” फेम सहदेव की हालत में सुधार, रैपर बादशाह रख रहे पूरी नजर

कांग्रेस का कहना है कि शिवराज सरकार ने प्रत्याशियों के साथ षड्यंत्र किया है वो इसकी पोल खोलेगी और पोल खोल अभियान के तहत हर कसबे, गांव और शहर में जाएगी और प्रत्याशियों को मुआवजा दिलाने के लिए संघर्ष करेगी।  पार्टी इसके लिए सेक्टर, मंडलम और जिला अध्यक्षों के साथ  बैठक करेगी।