Rajgarh: इस वजह से कलयुगी बेटे ने पिता को उतारा मौत के घाट, सबूत मिटाने लटका दिया फांसी के फंदे पर !

मामले में कलयुगी बेटा ही बाप का हत्यारा निकला। पुलिस के अनुसार बेटे की दूसरी शादी से उसके पिता नाराज थे। इसलिए कलयुगी बेटे ने पहले पिता के सिर पर डंडा मारा और फिर रस्सी से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के राजगढ़ (Rajgarh) जिले के सारंगपुर थाना क्षेत्र में गत माह हुए अंधे कत्ल (murder) का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। मामले में कलयुगी बेटा ही बाप का हत्यारा निकला। पुलिस के अनुसार बेटे की दूसरी शादी से उसके पिता नाराज थे। इसलिए कलयुगी बेटे ने पहले पिता के सिर पर डंडा मारा और फिर रस्सी से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। वहीं पकड़ाए जाने के डर से बाद में सबूत मिटाने के लिए पिता को जंगल मे पेड़ से फांसी के फंदे से लटका दिया। 15 जून को हुई इस घटना का पुलिस ने विवेचना के दौरान खुलासा कर आरोपी पुत्र को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें…Shivpuri : उफनता नाला पार कर रहा युवक बाइक समेत बहा, ऐसे बचाई जान, देखें Video

सारँगपुर थाना प्रभारी वीरेंद्र धाकड़ ने बताया कि दिनांक 15 जून को धामंदा गांव में 55 वर्षीय लख्मीचंद नट द्वारा झरी खाल किनारे फांसी लगाने की सूचना सारंगपुर पुलिस को मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने सूचना पर मौके पर पहुंच कर मर्ग कायम कर जांच में लिया गया था। मर्ग जांच एवं पीएम रिपोर्ट से मामला हत्या का पाया जाने से अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध में धारा 302 भादवि के तहत पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

ऐसे हुआ खुलासा
विवेचना में घटनास्थल के साक्षी एवं घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण के दौरान पाया गया कि मृतक लख्मीचंद नट के बड़े लड़के मुकेश नट द्वारा अपनी पहली पत्नी के रहते हुए पिछले साल दूसरी शादी कर ली थी। जिससे लख्मीचंद नट एवं उसके लड़के मुकेश नट के बीच आए दिन झगड़ा होता था। इसी बात को लेकर दिन भर झगड़ा होना साक्षियों द्वारा बताया। वहीं गांव में पुलिस को पूछताछ के लिए आया देख कर मुकेश नट द्वारा गौशाला तरफ भाग गया। सूचना मिलते ही पुलिस स्टाफ द्वारा आरोपी को पकड़कर सख्ती से पूछताछ करने पर जानकारी मिली की उसके पिताजी लख्मीचंद नट, आरोपी मुकेश नट द्वारा दूसरी शादी करने से नाराज थे और इसी बात पर दोनो में रोज-रोज झगड़ा होता था। और दिनांक 15.06.21 को मृतक के झरी वाले नाले में शौच करने जाने पर उनके पीछे-पीछे जाकर लख्मीचंद को डंडा मारा और वहां पर पड़ी रस्सी से गला घोट दिया। जिससे लख्मीचंद नट की मृत्यु हो गई, वहीं पुलिस के पकड़े जाने के डर से आरोपी ने सबूत मिटाने के लिए अपने पिता के शव को वहां से उठा कर आत्महत्या दिखाने के लिए गाँव के जंगल मे एक पेड़ से रस्सी पर शव को लटका दिया। ताकि यह मामला आत्महत्या का लगे। फिलहाल आरोपी बेटे को सारँगपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जहां से आरोपी को जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें…Ujjain : भगवान श्री महाकालेश्वर की तीसरी सवारी निकली, कलेक्टर ने किया पूजन