रतलाम, सुशील खरे। रतलाम (Ratlam) में एक किन्नर (transgender) के साथ एक ट्रक ड्राइवर (truck driver) द्वारा अप्राकृतिक कृत्य (unnatural act) करने का मामला सामने आया है। जिसके बाद किन्नर ने इसकी शिकायत पुलिस से की। वहीं पुलिस द्वारा इस मामले को गंभीरता से नहीं लेने पर, किन्नरों द्वारा कलेक्ट्रेट में हंगामा किया गया। जिसके बाद पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच की बात कही है। वहीं इस घटना का आरोपी फरार है।

यह भी पढ़ें…Shivpuri : ग्रामीणों में राशन के लिए मची लूट, अधिकारियों के सामने उठा ले गए अनाज के कट्टे

यह है पूरा मामला
फोरलेन पर बिलपांक टोल पर आने-जाने वालों से रुपए मांगने वाले एक किन्नर को ट्रक ड्रायवर से लिफ्ट मांगना भारी पड़ गया। ट्रक ड्रायवर ने किन्नर को लिफ्ट तो दे दी, लेकिन फिर उसके साथ अप्राकृतिक कृत्य भी कर डाला। जब किन्नर ने अपनी आपबीती पुलिस को बताई तो पुलिस ने किन्नर को मेडिकल के लिए पुलिस जिला अस्पताल भेजा। वहीं पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। जिसके बाद कार्रवाई नहीं होने से पीड़ित किन्नर ने अपने गुरु को अपनी आपबीती सुनाई। घटना की सुचना के बाद किन्नरों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। मगर कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिसके बाद गुस्साए दर्जनों किन्नर कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और कार्रवाई को लेकर हंगामा किया। और इस हंगामे के बाद में पुलिस ने ट्रकचालक के खिलाफ अप्राकृतिक कृत्य और अपहरण करने का आपराधिक प्रकरण दर्ज किया है। ट्रक ड्रायवर घटना के बाद फरार हो गया।

किन्नर गुरु ने मामले में जानकारी देते हुए बताया कि यह पूरा मामला विगत 26 जून का है। जहां बिलपांक टोल पर आने जाने वालों से रुपए मांगने वाली किन्नर ने रात करीब एक बजे टोल नाके से रतलाम आने के लिए ट्रक क्र.एच आर 61-सी-0390 के चालक से लिफ्ट मांगी। ट्रक ड्रायवर ने किन्नर को ट्रक में बैठा लिया, लेकिन सालाखेडी पर उसे ट्रक से उतारने की बजाय सीधे नामली की तरफ ले गया। रतलाम से नामली के बीच में ट्रक ड्रायवर ने किन्नर के साथ जबर्दस्ती अप्राकृतिक संभोग किया और किन्नर को ट्रक से उतारकर वहां से आगे चला गया। हादसे की शिकार किन्नर वहां से जैसे तैसे रतलाम पंहुची और फिर उसने बिलपांक पुलिस थाने पर पंहुचकर अपनी आपबीती सुनाई। बिलपांक पुलिस ने अज्ञात ट्रक चालक के विरुद्ध भादवि की धारा 377(अप्राकृतिक कृत्य) और 366 (अपहरण) की धाराओं में आपराधिक प्रकरण दर्ज किया है। मामले की जांच शुरु कर दी गई है।