डॉक्टरों ने लांघी सीमा, SAF जवान को OPD में बंधक बनाकर पीटा, FIR दर्ज

मामले में SP का कहना है कि अपराध कोई भी करें। अपराध अपराध होता है। ऐसा कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। डॉक्टर भी कानून के दायरे में है

रीवा, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) के रीवा (rewa) शहर से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। जहां 10 डॉक्टरों (doctors) द्वारा SAF के जवान को बंधक बनाकर उसके साथ मारपीट की गई है। इस मामले में 10 में से 6 डॉक्टरों के नाम SAF जवान द्वारा पुलिस को बताए गए हैं। वहीं पुलिस (police) जांच के बाद सभी डॉक्टरों के खिलाफ IPC की धारा 294, 323, 34, 342 और 506 के तहत FIR दर्ज की गई है।

दरअसल मामला रीवा शहर के सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का है। जहां SAF जवान आकाश साहू (akah sahu) को जबरदस्ती OPD में बंधक बनाकर उसके साथ मारपीट की गई है। जिसके बाद SAF जवान ने डॉक्टरों के खिलाफ FIR दर्ज कराए हैं। मामले में जवान का कहना है कि वह कंपनी कमांडर पीसी निहाल का इलाज कराने श्याम शाह मेडिकल कॉलेज के सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल पहुंचा था। जहां समय मिलने पर वह अपना चेकअप करवाने के लिए जूनियर डॉक्टर के पास पहुंचा।

Read More:इंदौर: योग गुरु बाबा रामदेव को लेकर पूर्व मंत्री और BJP सांसद आमने – सामने 

डॉक्टर ने ओपीडी में निर्धारित समय में आने का कारण पूछा तो उसने कंपनी कमांडर का जिक्र जूनियर डॉक्टरों से किया। जिसके बाद पुलिस का नाम सुनते ही अस्पताल के डॉक्टर भड़क गए और अन्य वार्डों में तैनात 1 दर्जन से अधिक डॉक्टरों को बुलाकर SAF जवान के साथ मारपीट शुरू कर दी गई। जब देर तक मरीजों के समझाने के बाद भी डॉक्टर नहीं रुके तो करीबन रात 8:00 बजे अस्पताल के अन्य मरीजों द्वारा 100 पर पुलिस को सूचना दी गई। एसपी ने अस्पताल में पहुंचकर दोनों पक्षों के बीच सुलह कराने के बाद FIR दर्ज किया है।

मामले में SP का कहना है कि अपराध कोई भी करें। अपराध अपराध होता है। ऐसा कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। डॉक्टर भी कानून के दायरे में है और वह किसी के साथ मारपीट नहीं कर सकते हैं। एसपी ने कहा कि फिलहाल डॉक्टरों को गिरफ्तार नहीं किया गया है। वही डॉक्टर द्वारा हड़ताल पर जाने की धमकी दी गई है।