दर्दनाक घटना: खेल-खेल में कार में बंद हो गया मासूम, जन्मदिन के दूसरे ही दिन मौत

child-lock-in-car-death-in-satna-

सतना| खेल खेल में बच्चों के साथ बड़े हादसे हो जाते हैं और छोटी से लापरवाही बच्चों की जान ले लेती है| मध्य प्रदेश के सतना में ऐसी ही एक दर्दनाक घटना सामने आई है| यहाँ रामपुर बाघेलान के सेहेरुआ गांव में जन्मदिन के दूसरे दिन ही आठ साल के एक मासूम की मामा की कार में दम घुटने से मौत हो गई। बच्चा खेल खेल में कार में बैठ गया और कार ऑटो लॉक हो गई| घटना के बाद परिजनों के साथ ही पूरे इलाके में शोक की लहर है| वहीं इस ग़मगीन घटना से पुलिस भी आहत हुई और रामपुर थाने का पुलिस स्टाफ ने रात को खाना नहीं खाया| 

जानकारी के मुताबिक  घटना गुरुवार की दोपहर सतना जिले के रामपुर बाघेलान के सेहेरुआ गांव की है| जहां सेहेरुआ निवासी रमेश पटेल के इकलौते बेटे अनिरुद्ध उर्फ शिवम पटेल (८) का 5 जून को जन्मदिन था।  शिवम के मामा जयभान सिंह पटेल निवासी मनकहरी की कार घर के बाहर ही खड़ी थी। इस दौराब मासूम शिवम् खेलते हुए कार के अंदर जा बैठा। इस बीच कार ऑटो लाक हुई और तपती धूप में रखी कार के अंदर शिवम फंस गया। कुछ डेट बाद शिवम् की तलाश शुरू हुई और तभी लोगों की नजर कार पर पड़ी तो आनन फानन में कार का दरवाजा खोलते हुए शिवम को अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।  


पुलिस स्टाफ भी दुखी, खाना नहीं खाया 

मासूम शिवम् की जन्मदिन के दुसरे ही दिन हुई मौत से गांव में सनसनी फेल गई, वहीं घरवालों पर दुःख का पहाड़ टूट पड़ा| वहीं इस दर्दनाक हादसे की खबर मिलने के बाद थाना रामपुर बाघेलान के पुलिस स्टॉफ ने रात को खाना नहीं खाया। टीआइ मोहित सक्सेना ने खाना बनाने आए नौकर को लौटा दिया। इसी तरह एसआइ यूपी सिंह बघेल समेत थाने के कुछ स्टॉफ ने अपने टिफिन नहीं खोले। जो अधिककारी व कर्मचारी ढाबों से खाना मंगाते हैं उन्होंने भी मना कर दिया।

दिल दहलाने वाला हादसा : खेल-खेल में कार में बंद हो गया मासूम, दम घुटने से हुई मौत