वन विभाग की लकड़ी तस्करों के खिलाफ कार्रवाई,2 लाख की लकड़ी जब्त,2 गिरफ्तार

सीहोर/अनुराग शर्मा

सीह़र इछावर लकड़ी तस्करों के खिलाफ वन विभाग ने कार्रवाई करते हुए दो अलग अलग स्थानों से लाखों रुपए की अवैध लकड़ी जब्त की है। साथ ही दो आरोपियों को गिरफ्तार भी किया गया है। जब्ती के दौरान लकड़ी तस्करों और वन अमले ने बीच झूमाझटकी हुई जिसमें अंधेरे का फायदा उठाकर बाकी आरोपी फरार हो गए।

इछावर रेंजर शिवप्रकाश शिवहरे को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई थी कि लकड़ी तस्कर नादान और दौलतपुर के जंगल से सागौन व खैर की लकड़ी का परिवहन करने वाले हैं। रेंजर शिवहरे ने सीहोर डीएफओ के मार्गदर्शन में सीहोर डिपो के रेंजर प्रकाश चंद उइके , इछावर रेंज अमला और पुलिस की 6 सयुक्त टीम बनाकर अलग अलग स्थानों पर तैनात की गई थी। इस दौरान रात करीब 11 बजे नादान से बोरदी की ओर एक पीकअप वाहन आता दिखाई दिया। टीम द्वारा वाहन को रोककर तलाशी ली गई तो उसमें सागौन के 33 नग रखे हुए थे। इस बीच वाहन चालक और उसके साथी वे वनकर्मियों के साथ झूमाझटकी कर अंधेरे का लाभ उठाया और मौके से फरार हो गये। दूसरी कार्रवाई झालकी और कल्याणपुरा के बीच सुबह 6 बजे की गई। एक आयशर वाहन जिसमें खेर की लकड़ी भरी हुई थी, लकड़ी चोरों ने प्रशासन को गुमराह करने के लिए लकड़ी के ऊपर प्याज की बोरिया जमा रखी थी। अमले ने वाहन सहित लकड़ी को जब्त करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है । आरोपियों के नाम रवि पिता नारायण व भंवरलाल पिता जगदीश निवासी कोटा राजस्थान बताए जा रहे हैं।