जबलपुर लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, 15 हजार की रिश्वत लेते सरपंच गिरफ्तार

सरपंच शिवकुमार उइके पिता भीकम सिंह ने अनापत्ति प्रमाण पत्र व जनसंख्या प्रमाण पत्र जारी करवाने के एवज में 20,000 की मांग की गई थी।

jabalpur lokayukta

सिवनी, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में जबलपुर लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई की है। लोकायुक्त टीम ने जिले के घंसौर जनपद अंतर्गत एक सरपंच को 15000 रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। यह रिश्वत सीमेंट ब्रिक प्लांट लगाने के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र व जनसंख्या प्रमाण पत्र जारी करवाने के एवज में मांगी गई थी।

यह भी पढ़े.. लाखों शिक्षकों के लिए अच्छी खबर, मिलेगा क्रमोन्नति का लाभ, सितम्बर में जारी होंगे आदेश, चुनावी मानदेय का होगा भुगतान

मामला सिवनी जिले के घंसौर जनपद अंतर्गत जैतपुरी गांव का है।यहां जैतपुरी निवासी मुकेश कुमार गोलानी पिता मनोहर लाल गोलानी उम्र 42 ने सीमेंट ब्रिक प्लांट लगाने के लिए आवेदन किया था। सरपंच ग्राम पंचायत सुचानमेटा जनपद पंचायत कटिया घंसौर जिला सिवनी सरपंच शिवकुमार उइके पिता भीकम सिंह ने अनापत्ति प्रमाण पत्र व जनसंख्या प्रमाण पत्र जारी करवाने के एवज में 20,000 की मांग की गई थी।

यह भी पढ़े.. लाखों कर्मचारियों को सीएम का बड़ा तोहफा, 15 लाख तक मिलेगा लाभ, सितंबर में होगा एरियर का भुगतान

इसके बाद सौदा 15000 में तय हुआ, जिसकी शिकायत मुकेश ने जबलपुर लोकायुक्त से की थी। इसके बाद लोकायुक्त टीम ने मामले की जांच की और सोमवार को सरपंच को योजना बनाकर मुकेश से 15000 की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया ।ट्रैप दल सदस्य में निरीक्षक सुरेखा परमार, निरीक्षक रंजीत सिंह, निरीक्षक मंजू किरण व तिर्की ट्रैप दल के अन्य सदस्य शामिल रहे।