अंत्येष्टि राशि देने के बदले मांगी रिश्वत, कलेक्टर और CM Helpline पर पहुंची शिकायत

रिश्वत

श्योपुर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के श्योपुर जिले (Sheopur District) में रोजगार सहायक  द्वारा रिश्वत (Bribe) मांगने का मामला सामने आया है। आरोप है कि रोजगार सहायक ने फरियादी से अंत्येष्टि राशि देने के बदले एक हजार रुपये की रिश्वत मांगी है। इसकी शिकायत श्योपुर कलेक्टर (Sheopur Collector)  राकेश कुमार श्रीवास्तव और सीएम हेल्पलाइन नंबर 181 (CM Helpline) पर भी पहुंची है।हालांकि आरोप लगने के बाद रोजगार सहायक ने सारे आरोपों को निराधार बताया है।

यह भी पढ़े.. रंगपंचमी पर MP में टूटे सारे रिकॉर्ड, 2777 नए कोरोना पॉजिटिव, 16 ने तोड़ा दम

मिली जानकारी के अनुसार, हनुमान मीणा निवासी जावदेश्वर द्वारा श्योपुर कलेक्टर को एक ज्ञापन सौंपा गया है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि भाई रामकरण पुत्र बद्रीलाल मीणा की मौत के बाद शासन से मिलने वाली अंत्येष्टि राशि को दिलाने के एवज में जावदेश्वर ग्राम पंचायत में पदस्थ रोजगार सहायक  पवन मीणा ने एक हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा है और पैसे ना देने पर राशि दिलाने से इंकार कर दिया है।

वही रिश्वत की यह शिकायत सीएम हेल्पलाइन 181  पर भी पहुंची है। इधर इन आरोपों के लगने के बाद रोजगार सहायक का कहना है कि रामकरण पुत्र बद्रीलाल मीणा का नाम संबल योजना में पंजीयन ही नहीं था, ऐसे में शासन द्वारा दी जानी वाली अंत्येष्टि सहायता राशि कैसे दी जा सकती है।