बियर की बोतल के रैपर ने पकड़ाया दुष्कर्मी, मामलें में पीड़िता ने कर ली थी आत्महत्या

इंदौर, आकाश धोलपूरे। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमे पुलिस ने एक दुष्कर्मी को एक अंडर कवर एजेंट और बीयर की बॉटल के जरिये गिरफ्तार किया है। दरअसल, आरोपी का कोई भी रिकार्ड पुलिस के पास नही था लिहाजा, जिस बेटी के साथ दुष्कर्म हुआ था उसके परिजनों को इस बात की आशा थी कि पुलिस दोषी को सजा जरूर दिलवायेगी।

आश्रम 3 : नहीं थम रहा विवाद, अब संत समाज ने दी चेतावनी, सांसद प्रज्ञा ने भी जताई आपत्ति, लिखेगी सी एम को पत्र

पूरा मामला इंदौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र का है जहां लॉक डाउन के दौरान एक नाबालिग के साथ एक युवक ने दुष्कर्म किया था। नाबालिग के परिजन मजदूरी कर जैसे तैसे अपना जीवन अपना व्यतीत कर रहे थे। वही इस दौरान मजदूर माता पिता की नाबालिग बेटी पर एक दरिंदे की नजर पड़ी जिसने उसे बहला फुसलाकर भगा ले गया और उसके साथ शारीरिक संबंध बना लिए। उस दौरान 363 के तहत बाणगंगा पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले में जांच शुरू कर दी थी। इसके बाद युवक ने कथित तौर पर नाबालिग से शादी भी कर ली और फिर उसने नाबालिग को प्रेगनेंट कर उसके घर छोड़ दिया। जिसके बाद मूलतः कटनी मध्यप्रदेश का रहने वाला राज बर्मन भाग गया और नाबालिग ने इसी गम में सुसाइड कर लिया था। जिसके बाद कोरोना काल शुरू हो गया नाबालिग के परिजन इंदौर छोड़कर चले गए। इसके बाद जब वे लौटे तो उनके बयानों के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दुष्कर्म सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया।

नरोत्तम की चेतावनी लोगों का रोष, Dabur ने वापिस लिया एड, माफी मांगी

वही कोरोना की रफ्तार धीमी पड़ने के बाद जब पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरू की तो वो आंध्रप्रदेश भाग गया जिसकी जानकारी पुलिस को बेहद दिलस्चस्प तरीके से लगी। दरअसल, पुलिस नाबालिग के परिजनों को समझाया कि जब भी आरोपी से बात हो तो उसे ये बताये की अब सबकुछ ठीक है और पुलिस के सारे मामले में खत्म हो गए है। इसके बाद आरोपी राज बर्मन निश्चिन्त हो गया और जब उसने अपनी एक तस्वीर नाबालिग बेटी के परिजनों को भेजी तो पुलिस ने बीयर पीते फ़ोटो के रैपर से पता लगाया कि आरोपी राज बर्मन आंध्रा में है वही पुलिस ने युवक के नम्बर की लोकेशन के आधार पर उसके आंध्रा में होने की पुष्टि कर ली। हालांकि, पुलिस के सामने बड़ी समस्या ये थी कि आरोपी अपनी लोकेशन बदल रहा था जिसके चलते पुलिस ने एक अंडर कवर एजेंट युवती की मदद ली और फिर उस युवती ने आरोपी युवक से दोस्ती कराई। जिसके बाद युवती ने युवक को मिलने के जबलपुर बुलवाया। जहां पुलिस ने आरोपी के आते ही उसे धर दबोचा। फिलहाल, पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और उस पर अलग – अलग धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है।