शिवपुरी : किसानों का आरोप, गेहूं खरीदी केंद्रों पर चल रही खुलेआम लूट

शिवपुरी जिले के खनियाधाना अंतर्गत समर्थन मूल्य पर चल रही खरीदी केंद्रों पर खुलेआम लूट हो रही है। वहीं खरीदी केंद्रों पर गेहूं विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत उजागर हुई है।

शिवपुरी, शिवम पाण्डेय। जिले के खनियाधाना में समर्थन मूल्य खरीदी केन्द्रों (Procurement Centers) पर किसानों से फसल तौल के नाम पर जमकर भ्रष्टाचार हो रहा है। किसानों का आरोप है कि खरीदी केंद्रों पर ऑपरेटर और प्रबंधक एक क्विंटल फसल तुलाई पर 2 किलो फसल काट लेते हैं। खरीदी केन्द्रों पर दलाल बैठे हुए हैं। किसानों को एक क्विंटल की तुलाई पर 1 से 2 किलोग्राम फसल हड़पी जा रही है। यदि रोज की रोज एक खरीदी केंद्र पर क्विंटलों फसल खरीदी जाएगी तो अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस गड़बड़ी से दलालों को कितना मुनाफा हो रहा है।

यह भी पढ़ें:-युवाओं ने बनाया 300 वॉलिंटियर्स का ग्रुप, तीन राज्यों में कर रहे कोरोना पीड़ितों को मदद

किसानों का कहना है कि विभागीय जिम्मेदार वरिष्ठ अधिकारियों ने अभी तक खरीदी केंद्रों का निरीक्षण भी नहीं किया है। जो लोग तत्काल ऑपरेटर और समिति प्रबंधक से सांठगांठ कर लेते है, उनके तत्काल नंबर आ जाते हैं। ईमानदार किसान बारदाना खत्म होने का हवाला देकर गुमराह कर देते हैं। ऐसे में किसान सड़क पर ट्रॉलियों के नीचे रात गुजारने को मजबूर हैं। खरीदी केंद्रों पर शासकीय उचित मूल्य की दुकान के सेल्समैन ने कोरोना काल का बचा हुआ राशन खरीदी केंन्द्रों पर ठिकाने लगाने का प्रयास कर रहे हैं। इस पूरे भ्रष्टाचार में समिति प्रबंधक और ऑपरेटर की मिलीभगत है। किसानों का आरोप है कि तुलाई केन्द्र के जिम्मेदारों द्वारा किसानों के साथ छलावा हो रहा है, जिससे ईमानदार किसानों की फसल विक्रय का नम्बर नहीं आ रहा है।

बारिश में भीगा लाखों क्विंटल गेहूं

जिले में हुई बारिश में खरीदी केंद्रों पर खुले में रखा लाखों क्विंटल गेहूं भीग गया। सेवा सहकारी संस्था खनियाधाना, सेवा सेवा सहकारी संस्था मुहारीकलां, सेवा सहकारी संस्था खनियाधाना गरेठा, सेवा सहकारी संस्था झालोनी पिपरा, सेवा सहकारी संस्था पिपरा झालोनी, सेवा सहकारी समिति संस्था अछरौनी, सेवा सहकारी संस्था पिपरोदा उवारी राजापुर, सेवा सहकारी समिति मुहारीकलां, सेवा सहकारी समिति महुआ खनियाधाना, कई जगहों पर खुले में खरीदी केंद्रों पर रखा लाखों क्विंटल गेहूं भीग गया। जानकारी के अनुसार जिले में गेहूं खरीदी केन्द्रो पर किसानो का गेहूं समर्थन मूल्य पर खरीदा जा रहा हैं। किसानों का जो गेहूं बेकार हुआ है। केंद प्रभारियों ने हाथ उठा लिए । जो गेहूं सड़ चुका है अब वह किसानों के हिस्से आ गया है।

बारदाने की कालाबाजारी जोरो पर

खनियाधाना में समर्थन मूल्य खरीदी केन्द्रों पर किसानों से फसल तौल के नाम पर बारदाने की कालाबाजारी जोरो पर है। किसानों को समर्थन मूल्य पर बेचे जा रहे गेहूं को रखने के लिए पर्याप्त बारदाना न मिलने से किसान परेशान हैं। वहीं किसानों द्वारा बारदाने कालाबाजारी होने की बात कही जा रही है।

इन खरीदी केंद्रों पर जमकर भ्रष्टाचार

सेवा सहकारी संस्था खनियाधाना, सेवा सहकारी संस्था मुहारीकलां, सेवा सेवा सहकारी संस्था खनियाधाना गरेठा, सेवा सहकारी संस्था झालोनी पिपरा, सेवा सहकारी संस्था पिपरा झालोनी, सेवा सहकारी समिति संस्था अछरौनी, सेवा सहकारी संस्था पिपरोदा उवारी राजापुर, सेवा सहकारी समिति मुहारीकलां, सेवा सहकारी समिति महुआ खनियाधाना, पर जमकर भ्रष्टाचार हो रहा है।