कोविड-19 को लेकर प्रभारी मंत्री ने ली अधिकारियों की बैठक, दिए आवश्यक दिशा निर्देश

सिंगरौली जिले में शनिवार को हुई आपदा प्रबंधन की बैठक में प्रभारी मंत्री राम खेलावन पटेल ने अधिकारियों को कोविड-19 को लेकर आवश्यक निर्देश दिए हैं।

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। जिले में शनिवार को कोविड-19 (Covid-19) को लेकर आपदा प्रबंधन समिति की बैठक कलेक्ट्रेट कार्यालय में सम्पन्न हुई। बैठक में राज्य मंत्री राम खेलावन पटेल मौजूद रहे। इस दौरान प्रभारी मंत्री रामखेलावन पटेल ने भी माना है कि जिले सहित प्रदेश भर में डॉक्टरों सहित पैरामेडिकल स्टाफ की कमी है। हालांकि उन्होंने सरकार का बचाव करते हुए कहा कि सीएम शिवराज सिंह चौहान ने डॉक्टरों सहित पेरामेडिकल स्टाफ की स्पेशल भर्ती कर कमी को पूरा करने के कलेक्टर व सीएमएचओ को निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें:-कोरोना से जिंदगी की जंग हारे रिटायर्ड अपर कलेक्टर, 1 महीने पहले हुए थे सेवानिर्वित

प्रभारी मंत्री रामखेलावन पटेल ने कहा कि जिले में कोरोना वैक्सीन की पर्याप्त उपलब्धता है। प्रभारी मंत्री रामखेलावन पटेल मध्य प्रदेश से लगे छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश के बॉर्डर पर भी सघन चेकिंग अभियान करने के लिए कलेक्टर व एसपी को निर्देशित किया है। साथ ही कहा कि पड़ोसी प्रदेशों से आने वाले सभी का कोविड-19 टेस्ट हो और संक्रमित पाए जाने पर सरकारी स्कूल सहित सामुदायिक भवन में बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर में आइसोलेट किया जाए और जिन की हालत गंभीर हो उन्हें हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया जाए।

यह भी पढ़ें:- ‘पेटीएम यूज़ करते हो?’ जबलपुर कलेक्टर की बनी फर्जी आइडी, आरोपी कर रहा पैसों की डिमांड

प्रभारी मंत्री ने बताया कि पूरे जिले में करीब 700 बेडो की उपलब्धता है। लेकिन और बेडो को बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि बेडो की व्यवस्था तो बढ़ाई जा रही है लेकिन कोरोना कर्फ्यू लगा कर संक्रमण की रफ्तार को रोकने का प्रयास किया जा रहा है। प्रभारी मंत्री रामखेलावन सिंह ने सीईओ को निर्देशित किया है कि ग्रामीण सरपंच व सचिवों की बैठक कर उन्हें समझाइश दे कि कोरोनावायरस का संक्रमण बढ़ रहा है गांव के लोग घर में ही रहे। आवश्यकता पड़ने के बाद ही घर से बाहर निकले। जागरूकता बढ़ाने के लिए उन्होंने प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया,सोशल मीडिया को भी प्रचार-प्रसार करने की अपील की है।

वहीं पत्रकारों द्वारा प्रभारी मंत्री को अवगत कराया गया कि चेक पोस्टों पर अच्छे से जांच नही की जाती। बहुत से चेक पोस्ट व पुलिस चौकी व थाने हमारे छत्तीसगढ़ बार्डर से लगे हुए है। लेकिन वहां अच्छे से जांच न होने से लोग आसानी से आ जा रहे हैं। जिससे कोरोना की रफ्तार जिले में तेजी से बढ़ रहा है। जिस पर प्रभारी मंत्री ने जिला प्रशासन को चेक पोस्टों कर सघन जांच अभियान चलाने की बात कही है।