सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। जिले में एक बार फिर एसपी वीरेन्द्र सिंह (SP Virendra Singh) की दरियादिली देखने को मिली। एसपी और उनकी पुलिस टीम कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) के दौरान अपने ड्यूटी का निर्वहन करने के साथ-साथ एक माह से ट्रॉमा सेंटर में दो टाईम का भोजन वितरण कर रहे हैं। भोजन बनाने में विशेषकर स्वच्छता का विशेष ध्यान दिया जाता है। वहीं एसपी के इस कार्य की जिले में हर कोई सराहना कर रहा है।

यह भी पढ़ें:-Transfer: मध्य प्रदेश में पुलिसकर्मियों के तबादले, यहां देखें लिस्ट

जिले में लगे कोरोना कर्फ्यू के चलते होटल, रेस्टोरेंट व अन्य प्रतिष्ठान बंद है। जिसके कारण ट्रॉमा सेंटर इलाज में दूर दराज से आये हुए मरीज व उनके परिजनों को भोजन की परेशानी हो रही थी। जिसको देखते हुए सिंगरौली पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र सिंह के निर्देश व नगर पुलिस अधीक्षक देवेश पाठक के मार्गदर्शन में नवानगर थाना प्रभारी यू.पी सिंह और यातायात थाना प्रभारी दीपेन्द्र सिंह कुशवाह के द्वारा गुरुद्वारा के बाबा व हरमीत सिंह के साथ मिलकर लगातार एक माह से मरीज व उनके परिजनों को भोजन वितरण किया जा रहा है। पुलिस के जवान दिन-रात अपनी ड्यूटी के साथ-साथ भोजन वितरण का कार्य भी कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:- कोरोना कर्फ्यू में ग्राहक को दुकान का शटर खोलकर किया अंदर और फिर हुआ ये 

एसपी वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि एक दिन वो अपने टीम के साथ कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने निकले थे, तभी ट्रॉमा सेंटर के समीप एनसीएल बाउंड्री के पास एक व्यक्ति अपने दो बच्चों के साथ बैठा हुआ था। जिस पर उनकी नजर पड़ी, एसपी ने उससे बैठे होने का कारण पूछा। जिस पर व्यक्ति ने कहा कि वो अपने बच्चों का इलाज कराने के लिए लंघाडोल से आया हुआ है, ज्यादा टाइम होने के कारण बच्चे भूखे है उन्हीं के लिए बिस्किट लेने जा रहा था। लेकिन सभी दुकान बंद है। जिसके बाद एसपी ने अपने स्टाफ को भेजकर उस व्यक्ति व उनके बच्चों को भोजन की व्यवस्था करवाई। उसी दिन से एसपी वीरेन्द्र सिंह के द्वारा अपने पुलिस के जवानों के साथ मिलकर ट्रॉमा सेंटर में दोपहर व शाम का भोजन वितरण का कार्य शुरू करवाया गया। उनके इस कार्य मे बैढन गुरुद्वारा के बाबा व हरमीत सिंह भी सहयोगी बने। रोजाना पुलिस के जवान विनय सिंह चौहान व सुनील दुबे मौजूद रहकर भोजन वितरण करवाते हैं।