सिरफिरे ने प्यार को दिया ऐसा अंजाम! युवती की एड़ियां काटी लेकिन पुलिस ने नहीं सुनी

फिलहाल, इस मामले में पुलिस की तफ्तीश शुरू हो चुकी है वही गंभीर रूप से घायल पीड़िता का इलाज जारी है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे।  कहते हैं हर इश्क का एक मुक्कमल अंजाम होता है लेकिन इंदौर में एक सिरफिरे आशिक की आशिकी कुछ इस कदर हावी पड़ी कि अब उसकी कथित प्रेमिका जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रही है। चौंकाने वाली बात ये है कि इंदौर शहर की पुलिस ने इस मामले में मुकदमा तक दर्ज नहीं किया लेकिन जब आईजी को इस बात की जानकारी मिली तब पुलिस के होश ठिकाने आते हैं जिसके बाद पुलिस कार्रवाई करने को मजबूर होती है।

ये पूरी घटना इंदौर के सांवेर थाना क्षेत्र की है जहां एक सिरफिरे आशिक ने अपनी कथित प्रेमिका के पैर की एड़ियां काट डाली लेकिन घटना के 36 घण्टे बाद भी पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया लिहाजा जब ये मामला मीडिया ने उठाया तो स्वयं इंदौर आईजी हरिनारायणचारि मिश्रा को घटना में एफआईआर दर्ज करने के निर्देश देने पड़े।

ये भी पढ़ें – Kamalnath को फिर दिल्ली से बुलावा, क्या संभालेंगे केंद्रीय नेतृत्व में पद! चर्चाओं का बाजार गर्म

बता दें कि इंदौर में इन दिनों युवतियों और महिलाओ पर अत्याचार और मारपीट के मामले लगातार सामने आ रहे हैं  हालांकि पुलिस ऐसी वारदातों पर लगाम कसने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है बावजूद इसके दरिंदे अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं वही पुलिस का खौंफ कम होना भी कई सवाल पुलिसिया व्यवस्था पर सवाल खड़े कर रहा है। हाल ही में एक ऐसा ही मामला इंदौर के सांवेर थाना क्षेत्र में सामने आया है जहां एक युवती के साथ मारपीट कर धारदार हथियार से उसके शरीर के अंगों को काटकर कथित प्रेमी भाग गया और पुलिस कुछ न कर सकी। युवती का इलाज फ़िलहाल इंदौर के एम.वाय.अस्पताल में जारी है और वो अस्पताल में जिंदगी और मौत जंग लड़ रही है। वही युवती के परिजनों की शिकायत न सुनने वाली पुलिस सांवेर में आराम फरमा रही है लेकिन जब यह मामला इंदौर आईजी हरिनारायणचारि मिश्रा के पास पहुंचा तो उन्होंने तत्काल सांवेर पुलिस को मामले में पीड़िता के परिजनों की शिकायत के आधार पर कार्रवाई के निर्देश दिए है।

ये भी पढ़ें – नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान, IT एक्ट के तहत हर विभाग में होगा एक एक नोडल अधिकारी

दरअसल, इंदौर के समीप सांवेर थाना क्षेत्र में एक लड़की के साथ उसके ही घर में मारपीट कर धारदार हथियार से उसके शरीर के अंगों को गंभीर नुकसान पहुंचाने का मामला सामने आया है। युवती के परिजन जब मीडिया के सामने आए और घटना की जानकारी दी तो सामने आया कि घायल लड़की और आरोपी के बीच पिछले 2 साल से दोस्ती थी फिर उसके बाद दोनों के बीच दरार आई और वाद विवाद होने लगे इसके बाद लड़की ने लड़के से किनारा करना चाहा तो 2 दिन पहले आरोपी अपने एक साथी के साथ लड़की के घर पहुंचा और कहासुनी के बाद धारदार हथियार से लड़की के पैर पर कई बार वार कर उसके पैर की एड़ी और उंगली काट दी। लड़के द्वारा किए गए वार के बाद घर के कमरे में खून फेल गया और मामले की जानकारी जब परिजनों को लगी तो उन्होंने तुरंत थाने पर सूचना दी जिस पर थाने वालों ने मामले में आनाकानी की और परिवार खूनी आशिक के डर के मारे सांवेर सावेर से इंदौर आ गया । अब घायल का इलाज एम.वाय. हॉस्पिटल में चल रहा है।

ये भी पढ़ें – MP School: RTE एडमिशन के लिए मंत्री इंदर सिंह परमार ने खोली लॉटरी, 28 हजार बच्चों के फॉर्म रिजेक्ट

सिरफिरे ने प्यार को दिया ऐसा अंजाम! युवती की एड़ियां काटी लेकिन पुलिस ने नहीं सुनी

वही घटना के मामले में इंदौर आईजी हरिनारायणचारि मिश्रा ने तत्काल थाने को सूचित किया और मामले में जांच के निर्देश दिए हैं। पीड़िता के परिजनों की माने तो राजा उर्फ इलियास का क्षेत्र में आतंक है और घर छोड़ना उनकी मजबूरी है जबकि उनके पास घटना के पर्याप्त साक्ष्य हैं लेकिन पुलिस ने उनकी कोई मदद नहीं की। बता दें युवती के परिजनों ने ये भी बताया कि आरोपी राजा उर्फ इलियास ने 15 दिन पहले भी घर पर आकर युवती के साथ जोर जबरदस्ती करने की कोशिश कर रहा था और घटना वाले दिन भी सुबह भी नापाक हरकत करने के इरादे से आया था और जब युवती ने उसका विरोध किया और उस पर हमला कर दिया गया। फिलहाल, इस मामले में पुलिस की तफ्तीश शुरू हो चुकी है वही गंभीर रूप से घायल पीड़िता का इलाज जारी है।