MP में राजस्व निरीक्षक रिश्वत लेते रंगेहाथों धराया, लोकायुक्त ने पैसों के साथ जब्त की पेंट

आरआइ ने काम नहीं किया और बाकी के 3 हजार की मांग करने लगा।इससे परेशान होकर किसान लोकायुक्त के पास पहुंचा।

रिश्वत

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन जिले (Ujjain District) के महिदपुर में लोकायुक्त टीम (Lokayukt Team) ने बड़ी कार्रवाई की है। यहां टीम ने राजस्व निरीक्षक (RI) राजेंद्र माथुर को रिश्वत (Bribe) लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार (Arrest) किया है। यह कार्रवाई किसान से जमीन के सीमांकन के लिए रिश्वत मांगने के लिए की गई है।हैरानी की बात तो ये है कि आरआई ने जैसे ही किसान से 3 हजार रुपए लिए और पेंट में रखें वैसे ही टीम मौके पर पहुंची और नोट के साथ वो भी उतरवाकर जब्त कर लीं।

यह भी पढ़े.. BRIBE : लोकायुक्त का शिकंजा, जनपद कार्यालय का APO 36 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

जानकारी के अनुसार, झारड़ा तहसील में पदस्थ राजस्व निरीक्षक राजेंद्र माथुर ने  ग्राम छोटा नलखेड़ा निवासी राजेश नाथ से 38 आरा जमीन के सीमांकन के लिए 10 हजार की रिश्वत की मांग की थी।किसान ने 7 हजार रुपए पहले दे दिए थे, इसके बाद भी आरआइ ने काम नहीं किया और बाकी के 3 हजार की मांग करने लगा।इससे परेशान होकर किसान लोकायुक्त के पास पहुंचा।

इसकी शिकायत 10 मार्च को किसान  (Farmers) ने लोकायुक्त डीएसपी (DSP) से  की थी। इसमें बताया 38 आरा जमीन के सीमांकन के लिए विधिवत कार्रवाई न करते हुए सितंबर 2020 में आवेदन किया था। इसकी बाकायदा रसीद भी ली थी। उसके बाद भी सीमांकन के नाम पर माथुर द्वारा 10 हजार रुपए की।इसके बाद लोकायुक्त टीम ने मामले की जांच करवाई और पुष्टि होने के साथ पाया कि 5 हजार रुपए सीमांकन के पहले व 2 हजार रुपए बातचीत के दौरान लिए है।

यह भी पढ़े.. MP Board: निजी स्कूलों को एक और मौका, 31 मार्च तक कर सकते है आवेदन

इसके बाद टीम ने योजना बनाकर किसान को शेष 3 हजार रुपए रंगे हुए नोट लेकर देने के लिए आरआई के पास भेजा और जैसे ही राजेश ने पैसे लेकर  पेंट की जेब में रखे, पीछे से लोकायुक्त टीम ने रंगेहाथों पकड़ लिया। रिश्वत में लिए नोट व पेंट जब्त कर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम में प्रकरण दर्ज किया। कार्रवाई के बाद से ही तहसील में हड़कंप मचा हुआ है।