धमकियों से परेशान होकर युवती ने कोर्ट में जहर खा कर की आत्महत्या की कोशिश, ये है मामला

लव जिहाद और रेप के मामले में आरोपी नसीर को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इसके बाद से ही आरोपी के दोस्त युवती को बयान बदलने के लिये धमकाते रहे जिससे परेशान होकर युवती ने आत्महत्या की कोशिश की।

जबलपुर, संदीप कुमार। मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) में एक युवती ने आरोपी के दोस्तों की धमकी से परेशान होकर कोर्ट में आत्महत्या (suicide) करने की कोशिश की। दरअसल यहां अधारताल निवासी एक युवती के साथ प्यार का नाटक कर उसके साथ रेप करने वाला आरोपी जिहादी निकला। उसने अपना धर्म बदल कर पहले तो युवती को अपने प्यार में फंसाया और जब युवती को पता चला कि युवक किसी अन्य धर्म का है तो उसने आरोपी के खिलाफ अधारताल थाने में शिकायत दर्ज करवाई। युवती की शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी नसीम के खिलाफ रेप का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया। वहीं आरोपी के जेल जाने के बाद से ही उसके के दोस्त युवती को बयान बदलने के लिये धमकाते रहे।

ये भी देखें- मप्र पंचायत चुनाव : अधिकारियों-कर्मचारियों के लेकर ये निर्देश जारी, 22 नवंबर को बैठक

जानकारी के मुताबिक आरोपी का असली नाम नसीम है। उसने मयंक बनकर युवती को अपने प्यार में फंसाया था। वह जरूर जेल में था पर उसके तीन दोस्त लगातार युवती को अपना बयान बदलने के लिए धमका रहे थे और इसी धमकी के चलते गुरुवार की शाम को कोर्ट परिसर में युवती ने जहर खा लिया। आनन-फानन में उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां उसकी हालत अब खतरे से बाहर बताई जा रही है।

पुलिस ने बताया कि अधारताल निवासी नसीम ने अपना नाम बदलकर युवती से पहले तो प्यार किया और फिर उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में जब युवती को पता चला कि युवक का नाम मयंक नहीं बल्कि नसीम है तो उसने अधारताल थाने में शिकायत की जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इधर युवती को लगातार आरोपी नसीम के तीन दोस्त बयान बदलने के लिए परेशान कर रहे थे। फिलहाल पुलिस ने नसीम के तीनों दोस्तों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।