मुरैना शराब कांड : 11 की मौत के बाद बवाल, TI सस्पेंड, परिजनों का हंगामा, मौके पर भारी पुलिस बल

परिजनों ने माँग की है कि घर के सदस्य को सरकारी नौकरी (Government Job) और आर्थिक सहायता दी जाएगा। वही वे कलेक्टर (Morena Collector) को बुलाने की मांग पर भी अड़ गए है।

मुरैना

मुरैना, संजय दीक्षित। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मुरैना जिले (Morena District) में जहरीली शराब (Poisonous Liquor) पीने से 11 लोगों की मौत के बाद बवाल मच गया है। परिजनों ने जौरा रोड़ पर शव रख चक्काजाम कर दिया है।परिजनों ने माँग की है कि घर के सदस्य को सरकारी नौकरी (Government Job) और आर्थिक सहायता दी जाएगा। वही वे कलेक्टर (Morena Collector) को बुलाने की मांग पर भी अड़ गए है। मौके पर भारी पुलिस बल (Morena Police) तैनात किया गया है।

यह भी पढ़े… Cabinet Meeting : शिवराज कैबिनेट बैठक आज, इन प्रस्तावों को मिल सकती है मंजूरी

मिली जानकारी के अनुसार, यह जिले के दो अलग अलग गांवों का मामला है। सुमावली थाना इलाके के पहावली गांव में 3 और बागचीनी इलाके के मानपुर गांव में 7 लोगो की मौत हुई है। वही 7 लोगों का इलाज जिला चिकित्सालय में जारी है, इसमें 2 की हालात गंभीर बताई जा रही है, जिन्हें ग्वालियर रैफर किया गया है। जहरीली शराब पीने से हुई लोगों की मौत के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है।सूचना मिलते ही पुलिस (Morena Police) मौके पर पहुंची और बीमारों को अस्पताल में भर्ती कराया ।

वहीं, मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम (Post Mortem) के लिए भेज दिया है। फिलहाल पुलिस ने बागचीनी थाना में चार संदिग्ध के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और कुछ लोगों को पूछताछ के लिए पुलिस ने हिरासत में भी लिया गया है।

शराब पीने से हुई मौत- चंबल आईजी

चंबल आईजी मनोज कुमार शर्मा का कहना है कि जहरीली नहीं बल्कि शराब पीने से सभी की मौत हुई है, इस मामले में जांच की जा रही है। ये लोग पार्टी में गए थे, जहां शराब पी और तबियत बिगड़ गए। पता लगाया जा रहा है कि शराब जहरीली थी या नहीं। वही पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया (Morena SP) का कहना है कि मौके पर पुलिस बल भेजकर मामले की जांच की जा रही है।
पूछताछ की जा रही है- मुरैना एसडीओपी
मुरैना एसडीओपी (Morena SDOP) का कहना है कि फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। पता लगाया जा रहा है कि मौत का कारण क्या है। अधिक शराब पीना या फिर जहरीली शराब । गांव वालों से भी पूछताछ की जा रही है, इसके बाद ही पूरा खुलासा हो पाएगा।
पहले भी हो चुकी है ऐसी घटनाएं

बता दे कि इससे पहले पिछले साल उज्जैन (Ujjain) में अक्टूबर माह में जहरीली शराब पीने से 14 लोगों की मौत हो गई थी, जिसको लेकर भी खूब बवाल मचा था।अब मुरैना में एक साथ 10 लोगों की मौत के बाद कोहराम मच गया है।

मुख्यमंत्री से मुलाकात करेंगे विधायक

घटना को लेकर आज मंगलवार को सुमावली से कांग्रेस विधायक अजब सिंह कुशवाह (Congress MLA Ajab Singh Kushwaha) मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) से मुलाकात करेंगे। अजब सिंह कुशवाहा मुख्यमंत्री से मांग करेंगे कि मृतक के परिजनों को 25 लाख मुआवजा और एक सरकारी नौकरी दी जाए।वही घटना के लिए जिम्मेदार अधिकारियों पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया जाए।

थाना प्रभारी निलंबित, जांच के लिए दल भेजा

मुरैना में जहरीली शराब पीने से हुई मौतों की घटना बेहद दुखद और पीड़ादायक है। इस मामले में संबंधित थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया गया है। जांच के लिए अलग से एक दल भी भेजा जा रहा है। घटना के लिए जिम्मेदार कोई भी दोषी बख्शा नहीं जाएगा।

नरोत्तम मिश्रा, गृह मंत्री, मप्र

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here