भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मध्यप्रदेश (Madhyapradesh) की 28 विधानसभा सीटों पर मंगलवार को बंपर वोटिंग हुई है। कोरोना काल में हो रहे उपचुनाव (Byelection) में लोगों ने बढ़चढ़ कर मतदान किया, बंपर वोटिंग से भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) दोनों दल हैरान है, इससे कई नेताओं की धड़कनें भी बढ़ रही हैं, बम्पर वोटिंग के क्या मायने हो सकते हैं इसकी चर्चा शुरू हो गई है| इधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा जितनी बंपर वोटिंग हुई है उतनी बंपर हमारी जीत होगी|

सीएम शिवराज ने कहा कोरोना के भय का असर कहीं नहीं दिखा, जनता ने उत्साहपूर्वक बढ़ चढ़कर उप चुनाव में भाग लिया। बंपर वोटिंग हुई है। जनता ने लोकतंत्र में विश्वास व्यक्त करते हुए मतदान को अपना पवित्र कर्तव्य माना है। कुछ स्थानों पर 2018 से ज्यादा वोटिंग हुई है। जितनी बंपर वोटिंग हुई है उतनी बंपर हमारी जीत होगी|

बौखलाहट बता रही कांग्रेस ने हार स्वीकार ली
सीएम शिवराज ने कहा कांग्रेस की बौखलाहट स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही, लोकतंत्र का मजाक उड़ाया जा रहा है| ईवीएम पर उंगलियां उठाई जा रही हैं| 2018 में जब कांग्रेस की सरकार बनी तो ईवीएम ठीक थी?| शिवराज ने कहा अधिकारियों कर्मचारियों को धमकाया जा रहा है, उनका भी आत्मसम्मान है, अफसर को देख लोगे, यह धमकी लोकतंत्र का मजाक है और अधिकारियों का अपमान है, इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस अपनी पराजय स्वीकार कर ली है|