12 August World Elephant Day: क्यों मनाया जाता है विश्व हाथी दिवस ? जानिए हाथियों से जुड़ी कुछ रोचक बातें

हर वर्ष हाथियों का संरक्षण और उनके प्रति जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से दुनिया भर में इसे अंतरराष्ट्रीय वार्षिक कार्यक्रम के रूप में मनाया जाता है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। वर्लड एलीफैंट डे यानी विश्व हाथी दिवस (World Elephant Day) हर वर्ष 12 अगस्त को मनाया जाता है। हर वर्ष हाथियों का संरक्षण व सम्मान करने और उनके सामने आने वाले महत्वपूर्ण खतरों के बारे में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से दुनिया भर में इसे अंतरराष्ट्रीय वार्षिक कार्यक्रम के रूप में मनाया जाता है। आपको बता दें भारत के पर्यावरण मंत्रालय ने हाथियों के संरक्षण की दिशा में कदम उठाते हुए हाथी को राष्ट्रीय घरोहर पशु घोषित किया है। 15 अक्टूबर 2010 को हाथी को भारत का राष्ट्रीय विरासत पशु घोषित किया गया है।

ये भी देखें- Congress का आधिकारिक अकाउंट Twitter ने किया ब्लॉक, नियमों का दिया हवाला

क्यों मनाया जाता है विश्व हाथी दिवस

विश्व हाथी दिवस का मुख्य उद्देश्य हाथियों का बचाव (संरक्षण), गैर-कानूनी शिकार और तस्करी को रोकने, हाथियों के बेहतर इलाज और पकड़े गए हाथियों को अभयारणयों में भेजे जाने के लिए लोगों को जागरूक करना है। एशियाई और अफ्रीकी हाथियों की तत्काल दुर्दशा पर ध्यान देने और कैप्टिव व जंगली हाथियों की बेहतर देखभाल और उनके प्रबंधन के लिए ज्ञान और सकारात्मक समाधान साझा करने के लिए भी यह दिन मनाया जाता है। दरअसल, साल 2011 में कनाडा फिल्म निर्माताओं पेट्रीसिया सिम्स (Canadian filmmakers Patricia Sims), कैनाजवेस्ट पिक्चर्स (Canazwest Pictures) के माइकल क्लार्क (Michael Clark) और थाइलैंड में एलिफेंट रिइंट्रोडक्शन फाउंडेशन (Elephant Reintroduction Foundation) के महासचिव सिवापोर्न डार्डरानंद (Sivaporn Dardarananda) ने इस दिवस को मनाए जाने की कल्पना की थी। एशियाई और अफ्रीकी हाथियों की दुर्दशा की ओर लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए आधिकारिक तौर पर पहली बार 12 अगस्त 2012 को पेट्रीसिया सिम्स और एलिफेंट रिइंट्रोडक्शन फाउंडेशन द्वारा इस दिवस को मनाया गया, तब से हर साल इस दिवस को मनाया जा रहा है, जिसे अब दुनिया भर में 65 से अधिक वन्यजीव संगठनों और व्यक्तियों का समर्थन प्राप्त हैं।

ये भी देखें- मध्य प्रदेश के गौरव Vivek Sagar पहुंचे भोपाल, खेल मंत्री ने किया स्वागत, CM Shivraj ने दी बधाई

12 August World Elephant Day: क्यों मनाया जाता है विश्व हाथी दिवस ? जानिए हाथियों से जुड़ी कुछ रोचक बातें

जानिए हाथियों से जुड़ी कुछ रोचक बातें

  • हाथी भूमि पर रहने वाला एक विशाल आकार का प्राणी है। यह जमीन पर रहने वाला सबसे विशाल स्तनपायी जीव है।
  • हाथी का गर्भ काल 22 महीनों का होता है, जो कि ज़मीनी जीवों में सबसे लम्बा है।
  • हाथियों का दिमाग सबसे बड़ा होता है। हाथी पानी की गंध को 12 मील दूर से महसूस कर सकते हैं और इन्हें खतरे का आभास पहले ही हो जाता है जिससे ये अपनी दिशा बदल देते हैं।
  • हाथी के दाँत जीवनकाल में निरन्तर बढ़ते रहते हैं। एक वयस्क नर हाथी के दाँत एक वर्ष में लगभग 18 से॰मी॰ तक बढ़ते रहते हैं। हाथी के कुल 28 दाँत होते हैं।
  • हाथी का बच्चा जन्म के समय लगभग 105 किलो का होता है। आमतौर पर हाथी 50 से 70 वर्ष तक जीवित रहता है, हालाँकि सबसे लम्बी उम्र (दीर्घायु) का हाथी 82 वर्ष का दर्ज किया गया है।
  • हाथी हमेशा झुंड में रहना पसंद करते हैं, इनके झुंड का प्रतिनिधित्व सबसे बुजुर्ग हथिनी करती है यानी कि हाथी मातृसत्ता के प्रतीक हैं।
  • हाथी गहरी दोस्ती निभाते हैं। दुःख की घडी में यह एक दूसरे की मदद करने के लिए सदैव तत्पर रहते हैं।
  • हाथियों की सबसे अच्छी खूबी है कि वे बहुत जल्दी सीखते हैं और सिखाते समय पूरा सहयोग करते हैं।

ये भी जेखें- MP Board: 10वीं-12वीं के छात्रों के लिए गाइडलाइन जारी, अन्य बोर्ड के छात्रों के लिए ये होंगे नियम

सीएम शिवराज ने की अपील

विश्व हाथी दिवस के मौके पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने ट्विटर पर हाथियों के संरक्षण की अपील करते हुए लिखा- “हाथी धरा के संतुलन और दूसरे वन्यजीव प्रजातियों के लिए जंगल तथा पारिस्थितिकी तंत्र को बनाये रखने में बहुत उपयोगी होते हैं। भारत ने इसे ‘राष्ट्रीय विरासत पशु’ घोषित किया है। आइये, #WorldElephantDay पर इस पारिस्थितिकी तंत्र के इंजीनियर के संरक्षण में योगदान देने का संकल्प लें।“