कर्मचारियों को नए वेतनमान का तोहफा, इतनी बढ़कर आएगी सैलरी, वेतनवृद्धि-एरियर का भी लाभ

लगभग दो लाख कर्मचारियों को 1 जनवरी, 2016 से संशोधित वेतनमान प्रदान करने तथा अनुबंध कर्मचारियों के वेतमान में वृद्धि करने का निर्णय लिया है।

7th pay commission DA HIKE

शिमला, डेस्क रिपोर्ट। हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की जयराम ठाकुर सरकार (jairam thakur government) ने राज्य के सरकारी कर्मचारियों को नए साल 2022 से पहले बड़ा तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कर्मचारियों को एक जनवरी 2016 से संशोधित वेतनमान देने का ऐलान किया है।इसके तहत कर्मचारियों का वेतन 15 फीसदी तक बढ़ाया जाएगा। इसका लाभ 2 लाख कर्मचारियों को मिलेगा। नया वेतनमान लागू होने के बाद अनुबंध कर्मचारियों का वेतन भी बढ़ेगा।

यह भी पढ़े.. MP में लापरवाही पर 1 निलंबित, 18 कर्मचारियों को नोटिस, 2 की सैलरी काटी, 2 की वेतनवृद्धि रोकी

दरअसल, सोमवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक (Cabinet Meeting) में राज्य सरकार ने लगभग 2 लाख कर्मचारियों को पहली जनवरी, 2016 से संशोधित वेतनमान प्रदान करने का निर्णय लिया गया। कर्मचारियों को जनवरी, 2022 का वेतन (salary) फरवरी, 2022 में संशोधित वेतनमान के अनुसार प्राप्त होगा। इससे राज्य के राजकोष पर प्रति वर्ष 4 हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त व्यय होगा।सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने ट्वीट कर लिखा है कि राज्य मंत्रिमंडल बैठक में हमने लगभग दो लाख कर्मचारियों को 1 जनवरी, 2016 से संशोधित वेतनमान प्रदान करने तथा अनुबंध कर्मचारियों के वेतमान में वृद्धि करने का निर्णय लिया है।

इसके तहत करीब दो लाख कर्मचारियों का वेतन अधिकतम 15 फीसदी तक बढ़ाया जाएगा। यह लाभ एक जनवरी 2016 से दिया जाएगा। संशोधित वेतन जनवरी 2022 से मिलेगा, जो कर्मचारियों के खातों में फरवरी में आएगा। बैठक में कर्मचारियों पर फैसला छोड़ा गया कि वे किस फार्मूले के तहत लाभ लेना चाहते हैं, पहला विकल्प बेसिक सैलरी में 2.59 और दूसरा 2.25 गुना बढ़ोतरी का है। इनके साथ अलग-अलग तरह के भत्ते और अन्य लाभ दिए जाएंगे। इससे विभिन्न श्रेणी के कर्मचारियों के वेतन में 3 से 25 हजार रुपये तक की बढ़ोतरी होगी। यह वृद्धि कुल वेतन में अधिकतम 15 फीसदी जबकि औसत 11 फीसदी के आसपास होगी।

यह भी पढ़े.. MP सरकार का बड़ा फैसला, पंचायत चुनावों के बीच ग्राम पंचायतों को सौंपी ये जिम्मेदारी

वही कैबिनेट बैठक में बताया गया कि 1 जनवरी, 2016 से 31 दिसंबर, 2021 तक के एरियर (Arrears) के बारे में अलग से निर्णय लिया जाएगा। प्रदेश सरकार कर्मचारियों को एरियर (DA Arrear) के रूप में पूर्व में ही लगभग 5 हजार करोड़ रुपए की अंतरिम राहत प्रदान कर चुकी है। संशोधित वेतनमान के उपरांत 1 लाख पांच हजार एनपीएस कर्मचारियों (NPS Employees) के उच्च वेतन निर्धारण के चलते प्रदेश सरकार द्वारा न्यू पेंशन स्कीम के अंतर्गत छह वर्ष के अंशदान के रूप में 260 करोड़ रुपए व्यय किए जाएंगे। बैठक में अनुबंध कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि का भी निर्णय लिया गया।

जानें कितनी बढ़ेगी सैलरी
उदाहरण के तौर पर 1 जनवरी, 2016 से संशोधित वेतनमान के तहत क्लर्क की सैलरी 3 से 5 हजार, वरिष्ठ सहायक की सैलरी 5 से 8 हजार, अधीक्षक की सैलरी 8 से 12 हजार रुपये, राजपत्रित अधिकारी की सैलरी 8 से 15 हजार रुपये और वरिष्ठ राजपत्रित अधिकारी 15 से 25 हजार रुपये तक बढ़ जाएगी।वही अन्य भत्तों के बाद सैलरी में बदलाव भी हो सकता है।