एक और झटका- भाजपा विधायक ने छोड़ी पार्टी, एक दिन पहले ही मिला था नोटिस

हैरानी की बात ये है कि एक दिन पहले ही भाजपा विधायक को प्रदेश पार्टी की ओर से कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था।

बीजेपी विधायक

कोलकत्ता, डेस्क रिपोर्ट। विधानसभा चुनावों 2021 (west bengal assembly election 2021) के बाद से ही पश्चिम बंगाल की राजनीति में उथल पुथल का दौर जारी हौ।आए दिन नेता मौके की नजाकत को देखते हुए पार्टी बदल रहे है।अब पश्चिम बंगाल में भाजपा को बड़ा झटका लगा है। रायगंज से भाजपा विधायक कृष्ण कल्याणी (BJP MLA Krishna Kalyani) ने पार्टी छोड़ने का ऐलान किया है।हैरानी की बात ये है कि एक दिन पहले ही भाजपा विधायक को प्रदेश पार्टी की ओर से कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था।

यह भी पढ़े.. MP Corona Update: 7 दिन में 96 नए केस, 11 फिर पॉजिटिव, इन जिलों स्थिति गंभीर

कृष्ण कल्याणी के इस्तीफ के कयास पहले से ही लगाए जा रहे थे। जब उन्होंने बीजेपी जिलाध्यक्ष बासुदेव सरकार से विवाद के बाद किसी भी कार्यक्रम में शामिल होने से इनकार कर दिया था।वही एक दिन पहले पार्टी की ओर से  उन्हें रायगंज से भाजपा सांसद देबाश्री चौधरी के खिलाफ बयानबाजी कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था, लेकिन जवाब देने से पहले ही कृष्ण कल्याणी ने इस्तीफा दे दिया।

यह भी पढ़े.. 4 लाइसेंस निलंबित, 13 कर्मचारियों को नोटिस, 4 पटवारियों की वेतन वृद्धि रोकी

इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं उस पार्टी में नहीं रह सकता, जिसमें देबाश्री चौंधरी सांसद हैं। हालांकि, उन्होंने अभी इस बात का खुलासा नहीं किया है कि वह किस पार्टी में शामिल होने जा रहे हैं। इधर, टीएमसी (TMC) ने उन्हें पार्टी में शामिल होने का न्यौता दिया है।हाल ही में  बाबुल सुप्रियो और मुकुल राय के अलावा तीन अन्य विधायकों ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया था और टीएमसी में शामिल हो गए थे।उपचुनावों के बीच इसे बड़ा झटका माना जा रहा है।