खुशखबरी : इन कर्मचारियों को डिप्टी सीएम का बड़ा तोहफा, वेतन-भत्तों में भारी वृद्धि का ऐलान, जल्द खाते में बढ़कर आएगी राशि

बिजली विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों के मूल वेतन में 19 प्रतिशत और 25 प्रतिशत की वृद्धि की जाएगी। इसका लाभ महाराष्ट्र राज्य विद्युत उत्पादन कंपनी लिमिटेड, महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड और महाराष्ट्र राज्य विद्युत संचरण कंपनी लिमिटेड के अधिकारियों और कर्मचारियों को मिलेगा।

Pooja Khodani
Published on -

Electricity Employees Salary Hike: महाराष्ट्र के बिजली विभाग के कर्मचारियों अधिकारियों के लिए खुशखबरी है। आगामी विधानसभा चुनाव से पहले राज्य की एकनाथ शिंदे सरकार ने बिजली कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है। डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के बिजली विभाग के कर्मचारियों के वेतन और भत्ते में भरी वृद्धि का ऐलान किया है। इसके तहत महाराष्ट्र राज्य विद्युत पारेषण कंपनी लिमिटेड के अधिकारियों और कर्मचारियों के मूल वेतन में 19% और 25% की वृद्धि की जाएगी।

वेतन के साथ भत्तों में भारी वृद्धि

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एक्स पर पोस्ट करते हुए लिखा है कि तीनों कंपनियों के  कर्मचारियों अधिकारियों के वेतन पुनरीक्षण को लेकर ऊर्जा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मुंबई के सह्याद्रि गेस्ट हाउस में बैठक हुई। इस दौरान विद्युत उत्पादन कंपनी लिमिटेड, महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड  और महाराष्ट्र राज्य विद्युत ट्रांसमिशन कंपनी लिमिटेड के अधिकारियों और कर्मचारियों के वेतन/भत्ते में बढ़ोतरी का फैसला किया गया है। इसके तहत मूल वेतन में 19% , सभी भत्तों में 25% की बढ़ोतरी के साथ परिवीक्षा अवधि के लिए सहायकों के लिए ₹5000 और तकनीकी कर्मचारियों का भत्ता ₹500 से ₹1000 तक करने का फैसला लिया गया।इस अवसर पर वरिष्ठ अधिकारी-कर्मचारी तथा संगठनों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

किसे मिलेगा लाभ

इसका लाभ महाराष्ट्र राज्य विद्युत उत्पादन कंपनी लिमिटेड, महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड और महाराष्ट्र राज्य विद्युत संचरण कंपनी लिमिटेड के अधिकारियों और कर्मचारियों को मिलेगा।मूल वेतन वृद्धि के अलावा तकनीकी कर्मचारियों के भत्ते में भी संशोधन किया गया है। सहायकों के परिवीक्षा अवधि के भत्ते में 5000 रुपए की वृद्धि की गई है। जबकि तकनीकी कर्मचारियों के भत्ते को 500 रुपए से बढ़ाकर 1000 रुपए कर दिया गया है।

 


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News