भाजपा सांसद

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। प्रयागराज (prayagraj) से भाजपा (bjp) और बांदा (banda) से सपा सांसद (member of parliament) रहे श्यामाचरण गुप्ता का शुक्रवार को देर रात निधन हो गया। उनके निधन का कारण कोरोना संक्रमण (corona infection) बताया जा रहा है। श्यामाचरण गुप्ता भाजपा के वरिष्ठ नेता होने के साथ साथ प्रयागराज के बड़े व्यापारियों (businessman) में से थे। कोरोना संक्रमित होने के बाद उन्हें दिल्ली (delhi) के निजी अस्पताल में इलाज हेतु भर्ती करवाया गया था। यहीं गुरुवार देर रात कोरोना से उनका निधन हो गया।

श्यामाचरण गुप्ता के निधन की पुष्टि श्याम ग्रुप के महाप्रबंधक मनोज अग्रवाल ने की है। उन्होंने बताया कि कोरोना से संक्रमित होने के कारण श्यामाचरण गुप्ता का इलाज दिल्ली के निजी अस्पताल में चल रहा था। इसी बीच गुरुवार रात 11:30 बजे उनका निधन हो गया। उनका पार्थिव शरीर अंत्येष्टि के लिए प्रयागराज लाया जाएगा या नहीं ये निर्णय अस्पताल प्रबंधन करेगा।बता दें कि पूर्व सांसद की पत्नी भी कोरोना पॉजिटिव हैं। हालांकि अभी वे होम क्वारंटाइन में हैं।

श्यामाचरण गुप्ता राजनीति में होने के साथ-साथ श्याम समूह कंपनियों के संस्थापक और सीएमडी भी थे। उनका नाम प्रयागराज के बड़े व्यपारियों में शुमार है।

यह भी पढ़ें… आपदा में अवसर, नगर निगम ने 8 गुना बढ़ाया पंजीयन शुल्क, 5 हजार रूपए तक विलंब शुल्क

कैसा रहा श्यामाचरण गुप्ता का राजनीतिक सफर:

2014 में श्यामाचरण गुप्ता प्रयागराज से सांसद रहे और 16वें लोकसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा। इसके बाद 1984 में स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में उन्होंने बांदा से चुनाव लड़ा, हालांकि उन्हें कांग्रेस के भीसन देव दुबे से शिकस्त मिली। 1989 में श्यामाचरण गुप्ता की सितारे चमके और वे प्रयागराज के मेयर बने। 1991 में भाजपा दावेदार के तौर पर प्रयागराज सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा लेकिन वे हर गए। इसके बाद करीब एक दशक तक उनका राजनीतिक सफर थम से गया जिसके बाद 2004 में उन्होंने सपा के उम्मीदवार के रूप में बांदा से चुनाव लड़ा और उन्हें जीत हांसिल हुई। 2009 में फूलपुर से चुनाव लड़ने पर उन्हें हार मिली। इसके बाद 2014 में भाजपा उम्मीदवार के रूप में चुनावों में वे काफी सक्रिय रहे और जीत हांसिल कर प्रयागराज के सांसद बने।