देश के आंकड़ों ने बढ़ाई चिंता, इन राज्यों में स्थिति गंभीर, पीएम मोदी ने दिए कड़े निर्देश

पीएम मोदी

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश में कोरोना (India Corona Update) का कहर जारी है। पिछले 24 घंटे में 34,973 नए मामले सामने आए हैं और 260 लोगों की मौत हो गई।इसमें केरल, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, कर्नाटक, मिजोरम और आंध्रप्रदेश राज्य के आंकड़ों में बढ़ोत्तरी देखने को मिल रहे है, जो सरकार के लिए चिंता का विषय बन गए है, ऐसे में तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार देर शाम एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई और राज्यों को कड़े निर्देश दिए।

यह भी पढ़े.. MP Weather : मप्र के 19 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, बिजली गिरने के भी आसार

बैठक में पीएम मोदी ने राज्यों को हर जिले में दवाओं का बफर स्टॉक रखने को कहा और कोरोना की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए देशभर में ऑक्सीजन की सप्लाई को तेजी से बढ़ाने के निर्देश दिए। पीएम मोदी ने अगले कुछ महीनों के लिए वैक्सीन के उत्पादन, आपूर्ति और दवाओं को लेकर समीक्षा की है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कोरोना म्यूटेंट के निगरानी के लिए निरंतर जीनोम अनुक्रमण की आवश्यकता के बारे में बात की है।

पीएम मोदी ने चिंता जताते हुए कहा कि महाराष्ट्र और केरल जैसे राज्यों के आंकड़े संकेत देते हैं कि ढिलाई के लिए कोई जगह नहीं हो सकती।ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर, सिलेंडर, पीएसए संयंत्रों सहित ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए पूरे पारिस्थितिकी तंत्र को तेजी से बढ़ाने की जरूरत है। साप्ताहिक कोविड-19 संक्रमण दर लगातार 10वें सप्ताह 3 प्रतिशत से कम रही है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, वेतन में होगी 8.8 प्रतिशत वृद्धि, सैलरी में आएगा उछाल

खास बात ये है कि यह बैठक ऐसे समय में हुई है जब एक दिन पहले ही केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि भारत में अभी भी कोरोना की दूसरी लहर जारी है और यह समाप्त नहीं हुई है। देश के 35 जिलों में साप्ताहिक कोविड संक्रमण दर 10 प्रतिशत से अधिक है, जबकि 30 जिलों में यह दर 5 से 10 प्रतिशत के बीच है।